Follow up – हुआ खुलासा बाढ़ की दोनो मासूम बहनों की रस्सी से फसरी लगाकर की गई थी हत्या, 2 दिन बाद पुलिस खाली हाथ

21

पटना Live डेस्क। बीते गुरुवार को पटना जिले के बाढ़ थाना क्षेत्र के लालकोठी मुहल्ले में हुई 2 सगी नाबालिग   बहनों की हत्या रस्सी से गला दबाकर की गई थी।इस तथ्य का खुलासा पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से हुआ है। प्राप्त जानकारी के अनुसार दोनो बहनों की हत्या गले में किसी  मजबूत चीज यानि रस्सी से फसरी लगाकर बदमाशो द्वारा की गई थीं। साथ ही आगे की जांच के लिए दोनों बहनों की बेसरा को सुरक्षित रख लिया गया है।उल्लेखनीय है कि दोनों नाबालिग मासूम बहनों की निर्मम हत्या की जांच को पहुची बाढ़ एएसपी लिपि सिंह ने परिजनों से तमाम वायदें किये और 24 घंटे में मामले के उद्भेदन का दावा किया था। पर कांड के 56 घन्टे बाद भी पुलिस न केवल खाली हाथ है बल्कि हवा में ही तीर चला रही है। कुछ भी ठोस तथ्य पुलिस के हाथ नही लग पाया है।

बीते गुरुवार को लालकोठी निवासी मो. मुख्तार की दो नाबालिग बेटियां 14 साल की दामिनी तथा 12 वर्षीय नेत्रहीन दिलखुश को बदमाशों ने घर मे ही चारपाई से बांध कर गले में फसरी लगाकर हत्या कर दी थी। घटना के समय घर मे दोनों बहने ही मौजूद थी। क्या था पूरा कांड जानने ख़ातिर करे क्लिक

BiG News – खौफ़नाक ! बाढ़ में 2 मासूमों की गला दबाकर हत्या से मचा कोहराम, ASP ने संभाला मोर्चा अपराधियों की जल्द गिरफ्तारी का दावा

बाढ़ पुलिस का मानना है कि वारदात को अंजाम देने वाले इस परिवार का न केवल जानकर है बल्कि उसे यह भी मालूम था कि बच्चियों की माँ लखीसराय गई हुई हैं। पिता भी अपने दुकान पर है। इस वजह से घर पर केवल दोनो बहने ही मौजूद है। साथ ही किसी प्रकार की चीखों पुकार की बात से मोहल्ले वालों के इनकार से इस पुलिसिया थ्योरी को बल मिलता है कि चुकी हत्यारे से बच्चियां परिचित थी। उन्होंने कोई चीखों पुकार नही की होगी। इसी कयास पर पुलिस की जांच बढ़ रही है। लेकिन वारदात के बाद से अबतक कुछ भी कॉन्क्रीट पुलिस के हाथ नही लगा है।

पुलिस को नही मिला कोई भी साक्ष्य

अपनी दोनो बच्चियों को खो चुके पिता मो. मुख्तार अंसारी ने पुलिस को दिए अपने लिखित बयान में किसी से दुश्मनी की होने से इनकार करते हुए अज्ञात के खिालफ मामला दर्ज कराया है। वही कांड के बाद पुलिस ने डॉग स्क्वाड की टीम को बुलाकर घटनास्थल का मुआयना कराया फिर इलाके में लगे तमाम सीसीटीवी पॉइंट पर जाकर फुटेज खंगाला पर अबतक की जांच- पड़ताल में पुलिस के पास किसी प्रकार का कोई सुराग नही मिला है। यानी घटना के बाबत पुलिस अब भी खाली हाथ है। यानी पुलिस हत्या से सम्बन्धित कोई ठोस जानकारी हासिल नहीं कर पाई है। जिसके आधार पर बदमाशों तक पहुंच सके।

Loading...