बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Fact Finding(Exclusive Videos)मासूम चेहरा,भगवा चोला-दर्ज़नो लड़कियों की अस्मत का लुटेरा,अय्याशी और शादी करना शौक है और ब्लैकमेलिंग पेशा

8,613

- Advertisement -

पटना Live डेस्क।दिन मंगलवार वक्त लगभग दिन के 3 बजे का था, अचानक एक जानने वाले ने मोबाइल की घण्टी बजाई और बताया कि व्हाट्स ऐप चेक करो एक लिंक भेजा है देखो उस को और फ़ोन कट गया। समझ नही आया माज़रा क्या है? खैर जब साझा किए गए लिंक को क्लिक एक लड़की की वीडियो मोबाइल स्क्रीन पर उभरी उस लड़की की आँखों मे आँसू भर्राई आवाज और चेहरे पर कसमकस और फिर जो शब्द उसने कहे सुनकर लगा …. पहले आप भी सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो को देखिए सुनिए … फिर कहानी को आगे बढ़ाएगे… दरअसल पीड़िता का बयान सुनने के बाद Patna Live की टीम ने तय किया “सच” जानने जरूरी है। कड़ियों को जोड़ कर हमने अपनी तफ़्तीश शुरू कर दी।

उम्मीद है वीडियो देख और सुनकर बहुत कुछ आप समझ गए होंगे।अब FIR की कॉपी भी देख पढ़ लीजिए फिर आपको बताएंगे पटना के पत्रकार नगर थाने की करतूत और आरोपी “मयंक” कैसे थाने से नामज़द होने के बावजूद भी कॉलर उठाये टहलते हुए फरार हो गया।

- Advertisement -

पीड़िता के हिम्मत को सलाम 

दरअसल, पटना में मंगलवार को अपने प्यार पर सर्वस्व न्यौछावर कर देने के बावजूद एक युवती ने धोखेबाज़ प्रेमी की प्रताड़ना और ब्लैकमेलिंग से आजिज़ आकर एक वीडियो बनाकर स्यूसाइड करने की बात कही और सोशल मीडिया पर साझा कर दिया। युवती की स्यूसाइड वाली वीडियो देखते ही देखते वायरल हो गई। वायरल वीडियो होने कर बाद पुलिस छानबीन में जुट गई।दरअसल,युवती का प्रेमी एक हिन्दूवादी युवा संगठन का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष है जो हिन्दू हितों की रक्षा की बात कहते नही आघाता है।बकौल पीड़िता के धर्म के बाबत इतना समपर्ण और माताओ बहनो की रक्षा को अपना जीवन उद्देश्य बताने वाले युवक से मुलाकात के बाद वो खासी प्रभावित हुई और दोस्ती कर बैठी।

एक बार बातों के सिलसिला चला तो दोस्ती प्यार में तब्दील होते समय नही लगा।घूमना फिरना मिला जुलना शुरू हुआ और फिर एक दिन पटना के एक होटल के कमरे मर्यादा की दहलीज लांघ दी गई। फिर क्या था प्रेमी द्वारा शादी का झांसा देकर युवती के साथ ही एक साल तक लिविंग रिलेशन में रहा। इस दौरान शादी का वायदा कर न केवल पीड़िता की अस्मत से खेलता रहा बल्कि काफी रुपये भी ऐंठता रहा।लेकिन मासूम चेहरे का फरेब इश्क में डूबी पीड़िता देख न पाई।

दरअसल,पीड़िता का प्रेमी इंसानी शक्ल का एक दिलफ़रेब भौंरा निकला जो फूलो का रसिया है जो बस मिठास चाहता है बन्धन नही। शातिर इतना की धर्म की आड़ में चिकनी चुपड़ी बाते कर अपनी हवस बुझाने का खेल खेलता है।

एक साल तक लिविन में रहने के बाद फिर एक बार अस्मातो का लुटेरा उक्त भौरा नई फूल की ओर आकर्षित हो पुरानी को रोता बिलखता और तरह तरह के लांछन लगाकर फरार हो गया जो उसकी  फिदरत का हिस्सा और हर बार के फरेब का किस्सा है। पीड़ित रोते बिलखते जब फरार आशिक के तलाश में निकली तो जो दगाबाज़ आशिक का सच उसके सामने आए तो पीड़िता के फाखते उड़ गए।जिसे वो एक आला किरदार समझे बैठी थी वो तो भगवा चोला धारण करनेवाला बेहद शातिर चाल बाज और अस्मतों का लुटेरा निकला। ज़रा देखिए 

जो धर्म का चोला ओढ़ कर अबतक दर्ज़नो युवतियों व लड़कियों की जिंदगी न केवल बर्बाद कर चुका था बल्कि उनके अंतरंग क्षणों की वीडियो और पिक्स के जरिए उनको ब्लैकमेल कर लाखो रुपये वसूलता था। इन्ही ब्लैक मेलिंग के पैसों से इस “घृणित’ ने बुलेट भी खरीदी और फिर नई तितलियों को …

लेकिन सलाम है बिटिया के साहस को जिसने लाज लिहाज और मर्यादा की चौखट को लांघ दिया और फरेबी आशिक को सबक सिखाने की कवायद की शुरुआत कर दी।ताकि भगवा चोला ओढ़कर अपनी ही बहन बेटियों के अस्मत को इस कथित “हिंदुपुत्र” के अय्याशी और शादी करने के शौक और फिर ब्लैकमेलिंग से बचा सके …..

जानिए इस “अस्मत के लुटेरे का हर सच और इसके फरेब का शिकार लड़कियों का हाल …लेकिन आखिर कौन है ये अस्मतों का लुटेरा ……

गन,गर्ल्स,गैंग व मयंक सिंह हिन्दुपुत्र के कुकर्म 

- Advertisement -

Comments are closed.