BiG News – UPSC-2018 के परिणाम घोषित कनिष्क कटारिया ने किया टॉप तो दूसरे स्थान पर भी IIT के अक्षत जैन, सृष्टि महिलाओं में अव्वल

172

पटना Live डेस्क। Union Public Service Commission (UPSC) ने आज सिविल सर्विस 2018 का फाइनल परिणाम घोषित कर दिया। इस परीक्षा में कनिष्क कटारिया ने टॉप किया है इस परीक्षा में सफल परीक्षार्थी आईएएस,आईपीएस और कई केंद्रीय सेवाओं के लिए चुने जाते हैं। यूपीएससी की मुख्य परीक्षा में इस बार 10,468 परीक्षार्थी शामिल हुए थे, जिसमें से 759 ने अंतिम सफलता हासिल की है।सफल परीक्षार्थियों में 182 लड़कियां हैं।टॉप 25 में से 15 लड़के और 10 लड़कियां शामिल हैं।

BiG News – UPSC-2018 का परिणाम घोषित, बिहार की बेटी ने 20वां रैंक किया हासिल तो कई अन्य भी हुए सफल

कनिष्क कटारिया ने किया टॉप

आईआईटी बॉम्बे से ग्रेजुएट कनिष्ट राजस्थान के जयपुर के रहने वाले हैं।उन्होंने पहले प्रयास में यह सफलता प्राप्त की है। आईआईटी बॉम्बे से बीटेक की पढ़ाई करने वाले कनिष्क कटारिया ने सिविल सेवा परीक्षा में शीर्ष स्थान हासिल किया है। कटारिया अनुसूचित जाति से ताल्लुक रखते हैं और उन्होंने वैकल्पिक विषय के रूप में गणित लिया था। उन्होंने कंप्यूटर साइंस में बीटेक किया है।उनके पिता सांवरमल वर्मा खुद आईएएस हैं।अब उनके बेटे ने यूपीएससी की परीक्षा में टॉप किया है। उनके ताऊ भी आईएएस रह चुके हैं।

सेकंड टॉपर – अक्षत जैन

इस परीक्षा में दूसरे स्थान पर आए अक्षत जैन ने आईआईटी गुवाहाटी से इंजिनियरिंग की है। उन्होंने कहा कि वह समाजसेवा के लिए सिविल सेवा परीक्षा में शामिल हुए। जयपुर के रहने वाले अक्षत के पिता आईपीएस और मां भारतीय राजस्व सेवा की अधिकारी हैं।

सृष्टि जयंत देशमुख रही महिलाओं में अव्वल

वहीं, सृष्टि जयंत देशमुख महिला अभ्यर्थियों में शीर्ष पर रहीं जबकि सम्मिलित सूची में वह पांचवें पायदान पर रहीं। राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय,भोपाल से बीई (केमिकल इंजिनियरिंग) की पढ़ाई करने वाली सृष्टि देशमुख महिला अभ्यर्थियों में शीर्ष पर हैं। भोपाल की रहने वाली सृष्‍ट‍ि महिलाओं की श्रेणी में पहले नंबर पर हैं। उनका कहना है कि ये मेरा पहला प्रयास था। लेकिन मैंने पूर्व में ही तय कर लिया था कि मेरा पहला प्रयास ही आखिरी प्रयास होगा। लेकिन मैं अपने परिवार के सपोर्ट के कारण ये सब हासि‍ल कर पाई।

संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएसी) ने शुक्रवार को सिविल सेवा परीक्षा 2018 के परिणाम घोषित किए।यूपीएससी ने एक बयान में बताया कि आयोग ने आईएएस , आईपीएस और आईएफएस आदि पदों पर नियुक्ति के लिए कुल 759 अभ्यर्थियों के नाम घोषित किए हैं, जिनमें 577 पुरुष और 182 महिलाएं हैं।

सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2018 तीन जून 2018 को हुई थी। इस परीक्षा में 10,65,552 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था जिनमें से 4,93,972 लोगों ने भाग लिया। सितंबर-अक्टूबर 2018 में हुई लिखित (मुख्य) परीक्षा में भाग लेने के लिए कुल 10,468 अभ्यर्थी उत्तीर्ण हुए। फरवरी-मार्च 2019 में हुए पर्सनैलिटी टेस्ट के लिए कुल 1994 अभ्यर्थियों ने सफलता प्राप्त की।

फाइनल रिजल्ट में 759 आवेदकों को सफल घोषित किया गया है जबकि 106 आवेदकों को वेटिंग लिस्ट में रखा गया है। हालांकि कुल 812 वेकन्सी थी। जिसमें आईएएस की 180 आईएफएस की 30, आईपीएस की 150, सेंट्रल सर्विसेज ग्रुप ए की 384 और ग्रुप बी सर्विस की 68 वेकन्सी थी।

Loading...