बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Exclusive- कबीर के दोहो को Quantam Physics से जोड़ने वाले विलक्षण प्रतिभा थे सुशांत सिंह,नए नोट्स ने फिर किया साबित सुपर जीनियस थे SSR

सुशांत के पावना फार्महाउस से मिले नए नोट्स, जिनमें लिखी है स्मोकिंग छोड़ने, कैलाश जाने, गिटार और तीरंदाजी सीखने की बात, कबीर-मोमिन के शब्द भी शामिल

489

पटना Live डेस्क। बिहार निवासी व बॉलीवुड के बहुमुखीं प्रतिभा के धनी एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के संदिग्ध हालातों में हुई मौत को 3 महीने और 4 दिन का समय गुज़र चुका है लेकिन अब तक उनकी मौत की असली वजह सामने नहीं आ पाई है। SSR की मौत की जांच केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई कर रही है। लगातार एजेंसी की टीम “मौत की वजह और सच” तलाशने की कवायद में जुटी है। इस केस की छानबीन में कोई कसर नहीं छोड़ रही है।ऐसे में सुशांत मामले में हर दिन कोई ना कोई नया चौंकाने वाला खुलासा हो रहा है।

                   इसी क्रम में सुशांत सिंह राजपूत के पावना फार्महाउस से मिले कुछ नोट्स ने एक बार फिर केस की जांच की दिशा मोड़ दी है। बल्कि एक बार फिर साबित किया है कि सुशांत सिंह राजपूत सुपर जीनियस थे। ये नोट्स 27 अप्रैल 2018 में लिखे गए हैं। इनमें से एक में सुशांत ने अपने डेली रूटीन के बारे में भी लिखा है।

दअरसल, सुशांत अपनी डायरी में बतौर नोट्स जो लिखा करते थे अगर आप उसको डिकोड करे तो आपको पता चलेगा कि SSR एक विलक्षण प्रतिभा के धनी थे। कुछ लोग #विज्ञान पढ़ते है। कुछ #आध्यत्म पढ़ते है। कुछ वीरले ही होते है जो अध्यात्म को विज्ञान से मिला देते है। ऐसे ही थे #SushantSinghRajput इसकी एक बानगी समझिए इन 9 पन्नों में जिनमे सुशांत ने कैलाश, सोमरस योग,वैदिक मंत्र और संस्कृत के बारे में लिखा था।

दअरसल, सुशांत अपनी डायरी में बतौर नोट्स जो लिखा करते थे अगर आप उसको डिकोड करे तो आपको पता चलेगा कि SSR एक विलक्षण प्रतिभा के धनी थे।

कुछ लोग विज्ञान पढ़ते है। कुछ आध्यत्म पढ़ते है। कुछ वीरले ही होते है जो अध्यात्म को विज्ञान से मिला देते है।

ऐसे ही थे #SushantSinghRajput इसकी एक बानगी समझिए इन 9 पन्नों में जिनमे सुशांत ने कैलाश, सोमरस योग,वैदिक मंत्र और संस्कृत के बारे में लिखा था।

डायरी के पेज –नम्बर 1 पर लिखा है।
Experience / Analysis….

पेज नम्बर 2 पर बहुत कुछ लिखा है।

जो पाई चार्ट की तरह है. इसमें लिखा है- How to solve problems ? Why happiness ? There is no right answer ? There r only better questions ? Experience, bills, courage, brilliance, divine, Analysis , Your, Why, Happiness, Success, Correct सुशांत ने इन सबका आपस मे कनेक्शन दर्शाने की कोशिश की है।

तीसरे पेज पर लिखा है-

Value edition, Paradoxical,Self musings ,Artistically mathematical, I am you, Neo – Descartes, Geniuses, Quirks, Metaphors, Literals Nasa+ Sushant 4 edu., UN, Peace, Climate, Metaphors, Literals, Niti aayog policies + in sake

चौथे पेज पर लिखा है – आध्यात्म

The observer collapses the wave function of photos ( probability ) into certainty (Double slit experiment)

जब मैं था तब हरी नही,  अब हरी है मैं नही (कबीर)

“Reality does not exist until we mean it”

(Quantum physics)

What you seek is seeking you (Rumi)

Reality does not exist until we mean it ( quantum physics

तुम मेरे पास होते हो गोया, जब कोई दूसरा नही होता ( मोमिन)- I am you ( anonymous)

क्रमशः – सुशान्त सिंह राजपूत के अन्य 5 पेज जो उनके जीनियस होने की गवाही देते है …. दूसरी क़िस्त में । 

Comments are closed.