बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News – पटना में रिटायर्ड दारोगा की सरेआम हत्या, ताबड़तोड मारी गई 6 गोलियां

पशुओं का चारा लेने घर से निकलने थे मकतूल झारखण्ड पुलिस से रिटायर्ड दारोगा

571

- Advertisement -

  • गाँव मे 6 महिने पूर्व हुई हत्या में नामज़द थे रिटायर्ड दारोगा सुनील सिंह
  • मारे गए युवक के पिता ने साथियों संग दिया खूंरेजी को अंजाम

पटना Live डेस्क। Lockdown के चौथे चरण के दूसरे ही दिन राजधानी के खुसरूपुर थाना क्षेत्र के नूरुद्दीनपुर मुसहरी टोला गांव के समीप आपसी रंजिश में हथियारबंद अपराधियों ने एक रिटायर्ड दारोगा सुनील सिंह उर्फ सिद्धि सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी। इस दौरान अपराधियों ने रिटायर्ड दारोगा सुनील सिंह को एक के बाद एक छह गोली दाग दी,जिससे उनकी घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया। परिजनों और ग्रामीणों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए नालंदा मेडिकल कॉलेज भेज दी है।

 

बताया जाता है कि नूरुद्दीनपुर गांव निवासी रिटायर्ड दरोगा सुनील सिर्फ उर्फ सिद्धि सिंह 2 माह पूर्व रांची के बरियातू थाने से दारोगा पद से सेवानिवृत्त हुए थे। पशु का चारा लाने बाजार जा रहे थे, इसी दौरान पहले से घात लगाए गांव के ही सुरेश सिंह और उनके समर्थकों ने उनपर अचानक हमला बोल दिया और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी।इस दौरान अपराधियों ने रिटायर्ड दारोगा को गोलियों से भून डाला, जिससे उनकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

- Advertisement -

बताया जाता है कि गांव में 6 माह पूर्व आरोपी सुरेश सिंह के पुत्र की हत्या कर दी गई थी। उक्त हत्याकांड में दारोगा सुनील सिंह उर्फ सिद्धि सिंह को भी नामज़द आरोपी बनाया गया था। बताया जाता है कि इसी आक्रोश में सुरेश सिंह और उनके समर्थकों ने रिटायर्ड दरोगा की हत्या कर दी है। पूरे मामले पर पूछे जाने पर गांव के चौकीदार सह घटना के प्रत्यक्षदर्शी लाल सिंह ने बताया कि 6 माह पूर्व हुए गाँव मे हुई हत्या के आक्रोश में ही रिटायर्ड दारोगा सुनील सिंह उर्फ सिद्धि सिंह की हत्या की गई है।

- Advertisement -

Comments are closed.