बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Patna Murder News-पटना में जदयू नेता के भाई को दिनदहाडे खदेड़ कर मारी ताबड़तोड़ गोली, मौत

1,089

अजीत, ब्यूरो प्रमुख, पटना पश्चिम 

पटना Live डेस्क । बिहार में बेकाबू अपरधियों का तांडव रुकने का नाम नही ले रहा है। इसी क्रम में राजधानी पटना के फुलवारी शरीफ में लगातार दूसरे दिन हत्या की वारदात से सनसनी मचा हुआ है। एक तरफ बकरीद को लेकर रैपिड एक्शन फोर्स के जवानों के चहलकदमी के बावजूद लगातार दूसरे दिन हत्या की वारदात से इलाके में खौफ का माहौल है । राजधानी पटना के फुलवारी शरीफ थाना अंतर्गत बभनपुरा धुपार चक में सुबह-सुबह बाइक सवार अपराधियों ने जदयू नेता नूतन सिंह के मौसेरे भाई सुरेश सिंह उर्फ सेठ जी को गोलियों से छलनी कर दिया था। जिनका इलाज के दौरान देर शाम पटना एम्स में मौत हो गई। उसके बाद धुपार चक बभनपुरा इलाके में तनाव का माहौल बना हुआ है। वहीं मृतक के घर सेठजी की मौत की सूचना मिलते ही परिवार वालों में रोना पीटना मच गया । मृतक के पिता बसंत सिंह मां पत्नी व दो बेटों समेत पूरे परिवार का रो रो कर बुरा हाल हो रहा है। हत्या की वारदात से पूरे गांव में लोगों में आक्रोश व्याप्त है। मृतक के परिजनों और गांव वालों का कहना है कि पुलिस पूरे मामले में शुरू से लापरवाही बरत रही है। पटना के रुकनपुरा बेली रोड विजय नगर में रहने वाले जदयू नेता नूतन सिंह के ऊपर दो दो बार जानलेवा हमला हुआ । उस मामले में पुलिस कुछ खास सफलता हासिल नहीं कर पाई इसका नतीजा है कि उस घटना में गवाह रहे सुरेश सिंह को मौत के घाट उतार दिया गया। वहीं मौके पर सिटी एसपी राजेश कुमार एडिशनल एसपी मनीष कुमार सिन्हा फुलवारी थाना अध्यक्ष एकरार अहमद जानीपुर थाना अध्यक्ष उत्तम कुमार लाल पहुंचकर तहकीकात में जुट गए हैं फिलहाल इस मामले में मृतक के शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। पुलिस अज्ञात अपराधियों के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई कर रही है।

पुलिस के मुताबिक यह पूरा विवाद जमीन विवाद से जुड़ा हुआ है। कुछ दिन पूर्व भी नूतन सिंह पर गोनपुरा में ही जानलेवा हमला हुआ था जिसमें अपराधियों ने उनकी स्कॉर्पियो को घेरकर दर्जनों राउंड गोलियां चलाई थी। हालांकि नूतन सिंह उस वक्त बाल-बाल बच गए थे । उस घटना में मौसेरे भाई सुरेश सिंह उर्फ सेठ जी गवाह थे। अपराधियों ने सुरेश सिंह को गवाही से रोकने के लिए उनकी हत्या कर दी। गांव वालों का कहना है कि गोली मारने के बाद अपराधियों ने मुरादपुर होकर सोन नहर हाइवे पकड़ लिए और फरार हो गए।

एस एच ओ फुलवारी एकरार अहमद ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज खंगाला जा रहा है इसके अलावा अपराधियों का पता लगाने के लिए हर पहलू पर तहकीकात की जा रही है।

ग्रामीणों ने बताया धुपार चक निवासी 50 वर्षीय सुरेश सिंह और सेठ जी बभनपुरा रोड से गुजर रहे थे तभी एक बाइक सवार दो अपराधी पहुंचे और उन्हें घेर लिया। अपराधियों को देख सेठ जी खेत की तरफ जान बचाकर भागे लेकिन खदेड़ कर ताबड़तोड़ तीन गोलियां शरीर में उतार कर अपराधी फरार हो गए। घटना के बाद मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने किसी तरह घायल अवस्था में उठाकर एम्स में भर्ती कराया ग्रामीणों का कहना है कि कुछ दिनों पूर्व सुरेश सिंह और सेठ जी का मौसेरा भाई नूतन के स्कॉर्पियो पर गोणपुरा में गोलीबारी कर हत्या का प्रयास किया गया था। यह घटना भी उन्हीं अपराधियों के द्वारा किया गया लगता है। ग्रामीण के मुताबिक पूरा मामला जमीन विवाद से जुड़ा हुआ है। इतना मौका ए वारदात से हत्या में प्रयुक्त पिस्टल खोखा भी बरामद किया है।

Comments are closed.