बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

बिहार में बढ़ रही है वायरल और डेंगू के मरीजों की संख्‍या

307

पटना Live डेस्क। बिहार में बीमारियां बढती जा रही हैं। जिससे लोगों की परेशानियां भी बढ़ रही हैं। वायरल बुखार, स्वाइन फ्लू के बाद अब डेंगू मच्छरों का कहर भी बढ़ता जा रहा है। जुलाई माह में जहां कुल सात मरीज मिले थे, वहीं सिर्फ सितंबर माह में अबतक 12 लोगों में इसकी पुष्टि हो चुकी है। ये वे मामले हैं जिनकी आरएमआरआइ, एम्स पटना, पीएमसीएच व एनएमसीएच की लैब में एलाइजा विधि से डेंगू की पुष्टि हुई है।बताते चलें कि निजी लैब एनएस-1 किट से जांच करती है और अधिकांश डाक्टर उसी के आधार पर रोगियों का इलाज करते हैं। किट से जांच करने के कारण निजी अस्पतालों में भर्ती रोगियों की संख्या इसमें शामिल नहीं है।

इस महीने में अबतक 12 लोगों में डेंगू की पुष्टि हुई है। इनमें से पांच एनएमसीएच, 6 एम्स और एक पीएमसीएच में मिला है।इनमें से बाढ़ बाजार, अथमलगोला और एकाध अन्य प्रखंड को छोड़ दें तो शेष सभी शहरी क्षेत्र के निवासी हैं। इसके अलावा बाजार समिति, नया टोला सिमरी बख्तियारपुर, तुलसी मंच, दरियापुर बजरंगपुरी, गुरगोला, पटनासिटी, महेंद्रू, बैरिया, पल्लवी नगर, महारानी कालोनी आदि इलाकों के निवासी हैं।

बिहार में लोग एक साथ कई बीमारियों के खतरे से परेशान हैं।कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच डेंगू, मलेरिया, वायरल के साथ स्वाइन फ्लू का खतरा है। बच्चों से लेकर हर उम्र के लोग परेशान हैं। सरकारी अस्पतालों में बेड फुल हैं और मरीजों को प्राइवेट अस्पतालों का सहारा लेना पड़ रहा है। एक साथ कई बीमारी का खतरा होने के कारण बुखार होते ही लोग परेशान हो जा रहे हैं और इलाज के लिए भटक रहे हैं।

Comments are closed.