बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Motihari Municipal Election 2022| महात्मा की कर्मभूमि पर मेयर पद ख़ातिर दागदार देवा गुप्ता ने बिछाई सियासी बिसात

मेयर ख़ातिर ताल ठोकने को आतुर देवा गुप्ता ने पत्नी के जरिए अब बिछाई है शातिराना बिछात चुनाव की माया देखिए जो कल तक शहर को अस्तव्यस्त करने के आरोपी रहे है वो अब खादी पहनकर शहर में शांति व विकास की बात कह रहे है। जिनको सताया है उनसे ही समर्थन और आशीर्वाद माँग रहे है। खादी पहनकर अपने लिए सम्मान का जुगाड़ कर रहे है। बड़ा सवाल क्या भूल जाएगी उनके कुकृत्यों को मोतिहारी की आवाम?

1,357

पटना Live डेस्क। लोकतंत्र अवधारणा को कैसे खोखला किया जाता है, कैसे इसकी सलाहियतों और आम आदमी तक पहुचने की अवधारणा को अपने निजी फायदे का इस्तेमाल किया जाता है इसकी बानगी है देश मे सूबे में होने वाले चुनाव। एक बार पुनः बिहार में निकाय चुनावों का शोर चहुओर सुनाई दे रहा है। इसी क्रम में पुनः एक बार दागियों और जरायम की दुनिया के नामावरों ने धनदौलत और बाहुबल को इस्तेमाल करते हुए खुद केलिए “आवाम के सेवा” के नाम पर सुरक्षित ठौर यानी सियासी चादर ओढ़ने की पुरजोर कवायद शुरू कर दी है। ऐसी ही एक कवायद महात्मा गाँधी की कर्मभूमि के नाम पर दुनिया मे प्रसिद्ध मोतिहारी की धरती पर भी अपनी पत्नी के जरिए सियासी ठेक बनाने ख़ातिर सियासी बिसात बिछाई है। यह लोकतंत्र की जननी और राष्ट्रपिता की कर्मभूमि पर राजद का सबसे बड़ा मज़ाक के मानिंद है। 

दरअसल,बिहार में नगर निगम चुनाव की डुगडुगी बज चुकी है।अवसर की ताक में और अपनी कारगुजारियों को खादी का आवरण पहना कर खुद को समाज की मुख्यधारा में लाने की कवायद के तहत मोतिहारी के लिए बेहद दबंग और बदनाम भूमाफिया का तगमा हासिल कर चुके देवा गुप्ता ने सियासी उड़ान भरने की तैयारी शुरू कर दी है। पत्नी के जरिए मेयर चुनाव जीतने की बिसात बिछानी शुरू कर दी है।

कौन है मोतिहारी का माफ़िया 

एक बार फिर राजद के अघोषित सुप्रीमो सह बिहार के डिप्टी सीएम तेजश्वी यादव की एक तस्वीर बहुत तेजी से सोशल मीडिया के तमाम मंचो पर वायरल हो रही है। दरअसल,वायरल तस्वीर में राजद के प्रतीक चिन्ह और लालू राबड़ी की तस्वीर वाला हरा गमछा गले मे डाले तेजश्वी यादव के साथ खड़े शख्स की पहचान मोतिहारी के कुख्यात के तौर पर की जाती है। इस वायरल तस्वीर में डिप्टी सीएम के साथ खड़ा शख्स मोतिहारी जिले का अतिचर्चित भूमाफिया होने के साथ ही कई जघन्य हत्या व आपराधिक वारदातों में नामजद तो है ही बिहार पुलिस के रिकॉर्ड में भी अपराधियों के संरक्षणकर्ता के तौर चिन्हित है।

डिप्टी CM से मिलने के बाद राजद में हुआ शामिल

मोतिहारी के मिस्कॉट निवासी देवा गुप्ता ने शुक्रवार, 9 सितंबर को पटना में 10 सर्कुलर रोड़ स्थित पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवासीय परिसर में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव व बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से मुलाकात कर पार्टी के नीति व सिद्धांतों में आस्था जताते हुए दल में शामिल होकर पूर्वी चंपारण जिला में राष्ट्रीय जनता दल को और मजबूत करने की बात कही। तदुपरांत राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के निर्देश पर शनिवार 10 सितम्बर को राजधानी स्थित राजद के प्रदेश कार्यालय में देवा गुप्ता को पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। राजद में शामिल होने के बाद मोतिहारी पहुचे देवा गुप्ता का उसके समर्थकों ने जोरदार स्वागत किया।

कॉन्ग्रेस नेता के बेटा हत्याकाण्ड में नामजद है देवा

बता दे कि 25 नवंबर 2017 को मोतिहारी शहर के नगर थाना क्षेत्र में हैदरी बाजार के कांग्रेस नेता मुनमुन जयसवाल के बेटे और वार्ड संख्या 12 की पार्षद रानी जायसवाल के देवर संजीव कुमार जायसवाल उर्फ छोटू जायसवाल को शहर के ज्ञानबाबू चौक स्थित चाय दुकान पर सुबह सबेरे गोलियों से छलनी कर दिया गया था। इस हत्याकांड़ की गूंज मोतिहारी से लेकर राजधानी पटना तक सुनाई दी थी। शहर के आमजन से लेकर व्यवसायी वर्ग ने सड़क पर उतर कर न केवल उग्र प्रदर्शन किया था बल्कि कई दिनों तक आंदोलन करते रहे थे। तब यह मामला राजद विधायकों द्वारा विधान सभा में भी जोरदार ढंग से उठाया गया था।

इस हत्याकांड ने शहर को कई दिनों तक अस्तव्यस्त कर दिया था।बीतते वक्त के साथ पुलिस ने इस हत्याकांड की गुत्थी सुलझाते हुए बीतते वक्त के साथ पुलिस ने इस हत्याकांड की गुत्थी सुलझाते हुए चार लोगों के खिलाफ स्पीडी ट्रायल चलाने न्यायालय से अनुरोध किया। जिनके खिलाफ स्पीडी ट्रायल चलना है उनमें रोहित सिंह उर्फ चंदन सिंह, देवा गुप्ता, सुबोध यादव, गोलू डी उर्फ आदित्य राधे शामिल हैं। इस अतिचर्चित हत्याकांड में नामजद आरोपी सह स्पीडी ट्रॉयल में उल्लेखित देवा गुप्ता ने अपने कुकर्मो और माफियागिरी को छुपाने ख़ातिर राज्य सत्ता में सशक्त राजद की सदस्यता ग्रहण कर लिया है ताकि खादी की आड़ में अपनी करतूतों को छुपा सके।

नई नही राजद की अपराधियों से आशनाई

महागठबंधन में शामिल और वर्त्तमान में सूबे की सत्ता में साझीदार कांग्रेस पार्टी के मोतिहारी मे लंबे समय से वफादार सिपहसलार मुनमुन जयसवाल के बेटे छोटू हत्याकांड का नामजद आरोपी जिसका स्थानिए राजद विधायको द्वारा न केवल उस वक्त जोरदार विरोध किया गया बल्कि बाकायदा विधानसभा में छोटू जायसवाल हत्याकांड को जोरदार ढंग से उठाया गया था।लेकिन बदले हालात में शहर के अतिचर्चित हत्याकांड में स्पीडी ट्रॉयल ख़ातिर नामजद देवा गुप्ता का पार्टी सुप्रीमो और डिप्टी सीएम से मुलाकात के बाद दल में शामिल होना पूरे जिले में चर्चा का विषय बन गया है।

वही, देवा गुप्ता व तेजश्वी यादव की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद से लोगो की तल्ख टिप्पणियों भी खूब मिल रही है। इसी कड़ी में एक यूजर ने लिखा है… “राजद का अपराधियों माफियाओं और उनके संरक्षणकर्ता से आशनाई नई नही ये तो शहाबुद्दीन से लेकर अबतक बदस्तुर जारी है।”

Comments are closed.