बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News(Exclusive वीडियो)PMCH के कोरोना क्वारन्टीन सेंटर में नाबालिक को गार्ड ने बना हवस का शिकार

774

- Advertisement -

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना स्थित सूबे के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल से एक बेहद शर्मशार और खौफनाक खबर मिली है। दरअसल PMCH (पीएमसीएच) के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती एक किशोरी के साथ वहीं के गार्ड ने रेप किया। पीड़िता किशोरी की उम्र महज 15 साल है।घटना आठ जुलाई की है।इस बाबत महिला थाना में पॉक्सो और रेप की विभिन्न धाराओं में प्राथमिकी दर्ज कर आरोपित गार्ड महेश प्रसाद को गिरफ्तार कर लिया गया है।

 

वही,महिला थाने में दर्ज प्राथमिकी के अनुसार पीड़िता किशोरी चाइल्ड हेल्पलाइन को बाढ़ रेलवे स्टेशन पर भटकते हुए मिली थी। वहां से लाने के बाद कोरोना जांच के लिए पीएमसीएच के कोरोना आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया। आठ जुलाई की रात में ही गार्ड महेश प्रसाद किशोरी को बाथरूम की तरफ ले गया। वहीं पर बाथरूम में ले जाकर रेप किया। नौ जुलाई को चाइल्ड हेल्पलाइन से एक और किशोरी आइसोलेशन सेंटर में आयी। उसके पास फोन था।हिम्मत करके 14 जुलाई को किशोरी ने चाइल्ड हेल्पलाइन में कॉल करके बताया कि आप सुरक्षा के लिए भेजे थे, यहां मेरे साथ गार्ड अंकल ने रेप किया।

- Advertisement -

इसके बाद चाइल्ड हेल्पलाइन ने ही एसएसपी को मामले की जानकारी दी। इसके बाद महिला थाना ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपित प्राइवेट गार्ड को PMCH कैम्पस से पीरबहोर थाना पुलिस ने दबोच लिया।Guard

पीड़िता का 164 का बयान दर्ज करा दिया गया है। गुरुवार को पीड़िता का मेडिकल जांच कराया जाएगा। इस घटना के बाद पीएमसीएच की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठने लगे हैं। आखिरी इतनी पहरेदारी के बीच एक किशोरी के साथ रेप जैसी घटना कैसे हो गई। महिला थानाध्यक्ष आरती जायसवाल मामले की छानबीन में जुट गई हैं।

गार्ड पर सुरक्षा का था दायित्व

किशोरी के अनुसार आठ जुलाई की रात जब आइसोलेशन वार्ड में अन्य लड़कियां सो रही थीं। उसे नींद नहीं आ रही थी। गार्ड ने बहाने से बुलाया। वह गयी तो गार्ड ने जबरदस्ती बाथरूम में बंद कर उसके साथ रेप किया।

रेप करने के बाद गार्ड ने पीड़िता से कहा कि किसी को बोली तो मार देंगे।डर से किशोरी कुछ नहीं बोल पा रही थी।लेकिन दूसरे दिन चाइल्ड हेल्पलाइन से ही जब दूसरी युवती को भेजा गया और देखा  कि उसके पास फोन है,तब हिम्मत करके सारी बातें मोबाइल से चाइल्ड हेल्पलाइन नम्बर के कर्मचारियों को बता दी।

- Advertisement -

Comments are closed.