बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News लखीसराय के जैतपुर निवासी कुख्यात कारेलाल पर 50 हजार का ईनाम घोषित

पेटी कांट्रैक्टर से एक करोड़ की रंगदारी मांगने समेत रंगदारी और आर्म्स एक्ट के 10 से अधिक मामले, कारेलाल पर बड़हिया व बाढ़ थाना में हत्या का मामला दर्ज

481

पटना Live डेस्क। बिहार के लखीसराय जिले में महज 3 साल में अपराध जगत में उभरे जैतपुर निवासी निशांत कुमार उर्फ कारेलाल ने ताबड़तोड़ दुःसाहसिक वारदातों को जन्म देकर पुलिस को हलकान कर दिया है। वही विगत दिनों कारेलाल ने बड़हिया स्टेशन से नथनपुर गांव तक बन रही सड़क के कॉन्ट्रेक्टर से एक करोड़ रंगदारी खातिर लगातार दो बार निर्माण स्थल पर पहुंच कर अन्धाधुन्ध फायरिंग कर पुलिस के लिए चुनौती खड़ा कर दिया था। रंगदारी मांगने का नामजद आरोपी कारेलाल उर्फ निशांत के विरुद्ध 50 हजार रुपए का इनाम घोषित कर दिया गया है। कुख्यात निशांत पर इनाम की घोषणा डीजीपी एसके सिंघल ने किया है। रंगदारी खातिर गोलीबारी की घटना को अंजाम देने के बाद पुलिस कारेलाल उर्फ निशांत कुमार के विरूद्ध सख्ती शुरू कर दिया है।

एसपी ने 21 दिसंबर को 50 हजार रुपए का ईनाम की घोषणा करने के लिए पुलिस मुख्यालय प्रस्ताव भी भेजा था। एसपी ने यह प्रस्ताव पुलिस महानिरीक्षक अभियान को भेजा था। इस प्रस्ताव पर सहमति देते हुए डीजीपी ने 06 जनवरी को इनाम की घोषणा की है। ईनाम की अवधि दो साल की होगी।

जैतपुर निवासी कारेलाल उर्फ निशांत कुमार सहित कई लोगों का एक संगठित गिरोह है। इस गिरोह के द्वारा लगातार अपराध की घटनाओं को अंजाम दिया जाता रहा है। यह गिरोह बड़हिया, वीरूपुर एवं लखीसराय थाना क्षेत्र के अलावा दूसरे जिले के लिए भी आतंक का पर्याय बना हुआ है।

जैतपुर निवासी निशांत कुमार उर्फ कारेलाल का लंबे समय का कोई अपराधिक इतिहास नहीं है। कारेलाल उर्फ निशांत और उसके गिरोह के लोग मात्र दो से तीन साल में ताबड़तोड़ अपराध कर सुर्खियों में आ गया। कारेलाल के परिवार का भी बैकग्राऊंड अपराध का नहीं है, बावजूद इसके कम समय में ही कारेलाल ने कई अपराधिक घटनाओं को अंजाम देकर सुर्खियों में आ गया। तीन वर्षो में उसने हत्या,लूट, रंगदारी और गोलीबारी की 10 कांडों को अंजाम दिया है। जानकारी के अनुसार उसके विरूद्ध दर्ज कांडों में सर्वाधिक आठ केस बड़हिया थाना में दर्ज है,जबकि एक केस वीरूपुर और एक केस पटना जिले के बाढ़ थाना में दर्ज है।

एक करोड़ की मांगी रंगदारी 

अपराधियों ने सड़क के निर्माण कार्य में एक करोड़ रुपए की रंगदारी मांग कर सनसनी फैला दी। लगातार दो बार निर्माण स्थल पर पहुंच कर 16 राऊंड फायरिंग कर पुलिस के लिए चुनौती खड़ा कर दिया था। कार्यस्थल पर काम करने वाले मजदूर भयभीत थे। पुलिस ने भी उसके घर को कुर्क करने के साथ ही इंनाम के लिए पुलिस मुख्यालय को प्रस्ताव भेजा था। बता दें कि 30 करोड़ की लागत से सड़क का निर्माण हो रहा है।

Comments are closed.