बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Super Exclusive(CCtv फुटेज) पटना में “ब्लैक डॉग”को गोली मारने वाले अपराधी साइकल व बाइक पर सवार हो कर आये थे – देखिये और पहचानिए

188

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना के कदमकुआं थाना अंतर्गत अबुलास लेंन में शहर के मुख्यतः गायघाट इलाके के चर्चित रहे वाहन लुटेरे और दबंग किस्म के अपराधी चिंटू गुप्ता उर्फ ब्लैक डॉग को साइकल व बाइक पर सवार 5 अपराधियों की टोली शाम तकरीबन 6 बजे केआसपास घर से बुलाकर गोली मार दी और फरार हो गए। गोली लगने के बाद चिंटू गिर पड़ा जिसे स्थानीय लोगो ने एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया है। वही गोली लगने के बाद अस्पताल में भर्ती चिंटू गुप्ता अब ठीक है साथ ही उसने कदमकुआं पुलिस को बयान भी दिया है।घटना के बाबत अपने बयान में उसने खुद पर कातिलाना हमला करने वालों वाले का नाम भी बताया है।वही घटना का सीसीटीवी फुटेज भी गली में लगे एक कपड़ा दुकान से प्राप्त कर उसे अपने कब्जे में कर लिया है। साथ ही घटना को अंजाम देने वाले पांचों लड़को को चिन्हित करते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी ख़ातिर उनके संभावित स्थानों पर छापेमारी शुरू कर दी है। साथ ही आरोपियों के परिजनों को पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।पुलिस सूत्रों का दावा है जल्द ही अपराधियों को धर दबोचा जाएगा।

सीसीटीवी फुटेज मिला

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस भी घटना स्थल पर पहुची और मामले के बाबत अपना अनुसंधान प्रारम्भ कर दिया।शुरुआती जांच में ही पुलिस को इस खुरेजी में गली के ही एक आपरधी चरित्र के लड़के के शामिल होने की अहम जानकारी मिल गई। शुरुआती इनपुट प्राप्त कर पुलिस ने अस्पताल का रूख किया जहां चिंटू इलाजरत है। फिर पुलिस ने गोली लगने से जख्मी का फर्द बयान भी दर्ज कर लिया। बक़ौल जख्मी चिंटू गुप्ता के अबुलास लेंन निवासी सूरज सहनी और सैदपुर नहर निवासी नीरज सहित 3 और लड़के इस कांड में शामिल है।वही चिंटू का कहना है कि उसकी हत्या के उद्देश्य से हमला किया गया। गोली नीरज ने चलाई जो उसके जांघ और पेट के बीच मे लगी और मैं गिर पड़ा उनको लगा होगा मैं मर गया। तो  दोनों फरार हो गए। फिर मुझे मेरे घर वाले अस्पताल ले आये।

 


वही कदमकुआं थाना पुलिस को इस गोलीकांड में उसवक्त अहम सुराग मिला जब आसपास पता करने पर घटना स्थल के समीप स्थित एक दुकान में लगे सीसीटीवी फुटेज में पूरे कांड के पहले और बाद फरार होते अपराधियों का फुटेज मिल गया। फिर क्या था पुलिस ने उसे अपने कब्जे में ले लिया।साथ ही कांड को अंजाम देने वाले शामिल पांचों लड़को को चिन्हित कर लिया है।
वही कदमकुंआ पुलिस को मिले सीसीटीवी फुटेज में घटना को अंजाम देने के पहले अपराधियों के इकट्ठा होने और फिर एक दूसरे से बातचीत कर घटना को अंजाम देने के पहले की कवायद और फिर फरार होने की तमाम कवायद दर्ज है। कांड को अंजाम देने से पहले दो लड़के साइकल पर बैठकर तो दूसरा काले रंग की पल्सर पर विपरीत दिशा से आते दिखते है।फुटेज में साफ दिखता है कि कपड़ा दुकान के समीप एक दुकान के पास लड़के पहले से खड़े है तभी साइकल पर पीछे बैठकर एक काले टीशर्ट में कांधे पर जैकेट रखे एक युवक आता है। दूसरी तरफ साइकल से उतर कर वो दुकान की ओर बढ़ जाता है उसके आते ही बाइक पर सवार एक युवक बाइक लाकर कपड़ा दुकान के ठीक सामने पार्क करता है। फिर टीशर्ट और जैकेट पहने लड़का जो साइकल के पीछे बैठकर आया था उसकी ओर बढ़ता है।इसी बीच एक अन्य युवक जो जीन्स और उजली फुल टीशर्ट पहने है सिगरेट पीते आगे बढ़ता है पर दोनों बातें कर रहे अपने साथियों से कोई बातचीत नही करता है लेकिन चंद कदम पर तीसरा  खड़ा होकर सिगरेट फुकता रहता है। फिर दोनों गली में आगे बढ़ते है और सीसीटीवी की जद से बाहर निकल जाते है। फिर पीछे रह गया लड़का काली बाइक वाला बाइक स्टार्ट करता है तो एक लड़का आकर उसके पीछे बैठ जाता है।इसके बाद वो गाड़ी मोड़ कर गली से बाहर निकल जाता है।लेकिन इस दौरान साइकल वही मौजूद रहती है पर साइकल चला रहा युवक कही नही दीखता है।कांड को अंजाम देने से पहले कुल 5 लड़के दिखते वही दो लड़के सिगरेट पीते साफ साफ दिख रहे है।इसमें एक सूरज है जो जैकेट पहने हुए है।वही सीसीटीवी में एक काले रंग की पल्सर बाइक और एक साइकल भी दिखती है। बाइक वाले दो युवकों के जाने के कुछ मिनटों बाद ही सीसीटीवी फुटेज में सूरज पूरी तेजी से दौड़ता हुआ दिखता है।

सूरज और नीरज मुख्य आरोपी

कदमकुंआ पुलिस ने चिंटू का बयान लेकर आरोपी नामजद अपराधियों की धरपकड़ के लिए छापेमारी शुरू कर दी है। कदमकुआं पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए अबुलास लेंन निवासी सूरज के घर पर दबिश देते हुए उसकी तस्वीर को कब्जे में करते हुए, सूरज के भाई को हिरासत में लेकर फरार के संभावित ठिकानों के बाबत पूछताछ शुरू कर दी है। वही आरोपी फरार नीरज के पिता को भी पुलिस में सैदपुर नहर स्थित उसके घर से हिरासत में ले लिया है।
वही घटना के बाबत मिली जानकारी
के अनुसार शाम 6 बजे के आसपास चिंटू गुप्ता थाना क्षेत्र के मछुआटोली मोहल्ले के अबुलास लेंन में अपने पिता के किराये घर पर चाय पी रहा था। इसी दौरान अबुलास लेंन के ही निवासी और पूर्व परिचित सूरज सहनी नामक अपराधी प्रवृत्ति का युवक एक अन्य लड़के (सैदरपुर नहर का निवासी) नीरज जो कुछ महीने पहले ही बेउर जेल से बाहर आया है समेत 3  अन्य लड़के गली में सिगरेट पीते इधर उधर टहल रहे थे। बक़ौल चश्मदिदों के कुल 5 लड़के थे जो घटना को अंजाम देने से पहले गली में मौजूद थे। इसी बीच अचानक सूरज चिंटू को उसके घर से बुलाकर बाहर लेकर आया। फिर अचानक किसी बात पर नीरज ने पिस्टल निकालकर चिंटू पर फायर कर दिया। गोली चिंटू के जांघ और पेट के बीच में लगी और वो गिर पडा। इसी बीच अपराधी भाग निकले। वही गोली लगने के बाद घायल चिंटू को निजी अस्पताल भर्ती कराया गया है। जहां आईसीएयू में उसका इलाज चल रहा है।

उल्लेखनीय है कि पूर्व में शहर में बाइक लूट की घटनाओं के बढ़ने पर पत्रकार नगर थाना द्वारा चिंटू गुप्ता को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई थी। तब उसने बताया था कि शादी कर लेने के बाद से उसने अपराध की दुनिया से दूरी बना ली है और वो पिता के साथ जुड़कर जीवन यापन ख़ातिर एक कपड़े की दुकान में मुलाजमत कर रहा है। पुलिस ने वेरीफाई कर उसे 3 दिन के बाद रिहा कर दिया था।

 

Comments are closed.