बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

बेगूसराय के सिमरिया में भगदड़ 3 महिलाओं की मौत 10 घायल, 3 सिपाही भी गंभीर रूप से जख्मी

148

पटना Live डेस्क। बेगूसराय मिथिलांचल की प्रसिद्ध पावन धरती सिमरिया धाम शनिवार को कार्तिक पूर्णिमा स्नान के दौरान तीन लोगों के मौत का गवाह बना। कारण प्रशासनिक अव्यवस्था एवं पुलिस की संदिग्ध कार्यशैली के कारण काली अस्थान मंदिर के समीप स्थित हनुमंत चौक पर शनिवार की अहले सुबह भगदड़ मच गया। जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई और आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। भगदड़ का कारण बना संकरा रास्ता बताया गया है। हनुमंत चौक के समीप काफी संकरा रास्ता है। सड़क के दोनों ओर जालीनुमा बैरिकेटिंग लगा हुआ है। पूर्णिमा स्नान को लेकर दो बजे सुबह से ही गंगा स्नान शुरू हो गया था।डीएसपी मिथलेश कुमार ने तीन मौतों की पुष्टि की है। घटनास्थल पर बेगूसराय के डीएम नौशाद यूसुफ और एसपी आदित्य कुमार अतिरिक्त पुलिस बल के साथ पहुंच चुके हैं।

कार्तिक पूर्णिमा पर उमड़ी भीड़

बेगूसराय के सिमरिया धाम में कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर हजारों हज़ार की भीड़ उमड़ पड़ी थी।सिमरिया धाम में कार्तिक महीने में कल्पवास मेले की परंपरा रही है।इस बार सिमरिया में कुंभ का भी आयोजन किया गया था।कार्तिक महीने के कल्पवास मेला,कार्तिक पूर्णिमा का स्नान और कुंभ को लेकर सिमरिया धाम में काफी भीड़ उमड़ पड़ी थी। इसी दौरान काली मंदिर के पास सीढ़ी घाट पर भगदड़ की बात सामने आई है।एक श्रद्धालु की मौत की बात प्रशासन कर रहा है।हालांकि स्थानीय लोग चार लोगों की मौत की बात बता रहे हैं।

              भागने लगी भीड़ और फिर 

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि अचानक एक बार भी लोग भागने लगे।कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर सिमरिया धाम में स्नान के बाद काली मंदिर के सकरे रास्ते में किसी बात को लेकर लोग बेतहाशा भागने लगे। कई श्रद्धालुओं के जूते-चप्पल और दूसरे सामान जहां तहां बिखरे पड़े थे।भगदड़ में ही श्रद्धालुओं की मौत की बात कही जा रही है।पुलिस में विस्तृत जांच के बाद ही स्पष्ट तौर पर कुछ कहने की बात बताई है।

एनएच 31 पूरी तरह जाम

कार्तिक पूर्णिमा स्नान करने को उमड़ी भीड़ के कारण मोकामा बेगूसराय रोड पूरी तरह जाम हो चुका हैहाथीदह, राजेंद्र पुल, मल्हीपुर,बीहट से लेकर जीरो माईल तक वाहनों की कतार लगी हुई है।भारी वाहनों पर रोक के बावजूद जाम बना हुआ।

Comments are closed.