बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

कामेश्वर सिंह और जनार्दन सिंह सिग्रीवाल के बीच बढ़ रहा मामला, SIT जांच की उठ रही मांग

736

पटना Live डेस्क। JDU-BJP के बीच तना-तनी ऐसे भी हमेशा जारी रहती है। अब जेडीयू नेता कामेश्वर सिंह और बीजेपी सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल के बीच गाड़ी को लेकर हुए विवाद सर हलचल तेज हो गई है। मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। JDU नेता कामेश्वर सिंह ने आज प्रेसवार्ता कर इस मामले की SIT जांच करवाने की सरकार से मांग की है। मीडिया से बात करते हुए कहा कि अगर उन्हें इंसाफ नहीं मिला तो वो अपनी जान दे देंगे। सल्फास खाकर अपनी जान दें देंगे। वो अंतिम सांस तक लड़ेंगे और जब लगेगा की इंसाफ नहीं मिला तो जान दे देंगे।


जेडीयू नेता कामेश्वर सिंह ने कहा कि BJP सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल उनकी हत्या करवा सकते हैं। उनसे मुझे जान का डर भी है। लेकिन हम डरेंगे नहीं, इस मामले में दूध का दूध और पानी का पानी करके रहेंगे। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान हमने उन्हें कोई गाड़ी गिफ्ट नहीं की थी। बल्कि प्रचार के लिए उन्होंने मुझसे एक गाड़ी की मांग की थी।

सांसद द्वारा गाड़ी की मांग करने पर मैंने स्कॉर्पियों का टॉप मॉडल खरीद कर प्रचार के लिए दे दिया। लेकिन चुनाव बाद उसे लौटाया नहीं गया बल्कि कार को अपने बेटे के पास बेंगलुरू भेज दिया। कामेश्वर सिंह ने कहा की सांसद के खिलाफ मेरे पास बहुत सबूत है। मैं कानूनी लड़ाई लड़ूंगा और इंसाफ पाकर रहूंगा।

उन्होंने कहा कि यह लड़ाई दो दलों के बीच नहीं है। बल्कि कामेश्वर और जनार्दन सिंह सिग्रीवाल के बीच है। इससे एनडीए के स्वास्थ्य पर असर नहीं पड़ेगा। मुझे सीएम नीतीश पर पूर्ण विश्वास है। वो मेरे साथ इंसाफ जरूर करेंगे। बता दें कि कामेश्वर सिंह के बेटे की स्कॉर्पियों गाड़ी बेंगलुरू में सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल के भतीजे के आवास से पुलिस ने बरामद किया है। जिसको लेक कामेश्वर सिंह ने छपरा के स्थानीय थाने में चोरी का मामला दर्ज कराया था। सुनिए और क्या क्या कहा जदयू नेता ने …

Comments are closed.