बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG Breaking-राजधानी की सुरक्षा पर सवालिया निशान पुलिस के जवान के अपहरण से मचा हड़कम्प परिजन पहुचे थाने लगाई गुहार

बिहार स्पेशल टास्क फ़ोर्स (STF) में 8 साल तक तैनात रहे बीएमपी 5 के जवान का पटना में बिना नम्बर के बोलेरो सवार अपराधियों ने दिनदहाड़े महुआ बाग से किया अपहरण परिजन पहुचे रूपसपुर थाना दर्ज कराया किडनैपिंग का केस जाँच में जुटी पुलिस

1,013

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना में अपराधियों का दुःसाहस अपने चरम पर है। रोज़ ब रोज़ होते आपराधिक वारदात इसकी मुनादी कर रहे है। लेकिन आज (शानिवार) को अपराधियों ने दुःसाहस का चरम पार करते हुए राजधानी पटना में एक ऐसे पुलिसवाले का अपहरण कर लिया जिसकी बिहार स्पेशल टास्क फ़ोर्स (STF) में 8 साल तक तैनाती रही है। इस घटना को एक बिना नंबर वाली बालेरो के जरिए अंजाम दिया गया। यह दुःसाहसिक वारदात राजधानी के रूपसपुर थाना क्षेत्र के महुआबाग में घटित हुई।

घटना की जानकारी मिलते ही परिजन बदहवास हो गए और फौरन स्थानिए थाना पहुचे और लिखित आवेदन देकर घटना की जानकारी देते हुए मदद की गुहार लगाई। चूंकि मामला पुलिस जवान के अपहरण से जुड़ा था। रूपसपुर थानेदार द्वारा इस घटना की जानकारी वरीय पुलिस अधिकारियों को दी गई। घटना की पुष्टि करते हुए रूपसपुर थाना प्रभारी ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है।

सीसीटीवी में दिखाई दी बालेरो

लिखित आवेदन मिलते ही रूपसपुर थाना पुलिस ने घटना स्थल का रुख किया और आसपास लगे CCtv कैमरों के फुटेज खंगालना शुरू किया तो पुलिस को घटना स्थल के समीप एक निजी मकान की सीसीटीवी फुटेज में बीएमपी जवान की बाइक और बिना नंबर प्लेट वाली एक बोलेरो पर कुछ लोग जाते दिखाई दे रहे हैं। पुलिस लगातार कड़िया जोड़ने में लगी है।

मिली जानकारी के अनुसार मूलरूप से आरा के पूरा गांव के निवासी है। वर्त्तमान बिहार मिलिट्री पुलिस (बी एम पी-05) में लाइन बाबू के यहां मुंशी के पद पर कार्यरत हैं। शशिभूषण सिंह रूपसपुर थाना अंतगर्त गंगा नगर भट्ठा सीमेंट स्टोर स्थित मकान में किराए पर अपनी पत्नी व 2 बच्चों संग रहते है।अपहृत जवान शशि भूषण सिंह महुआ बाग इलाके में ही अपना मकान बनवा रहे हैं। सुबह 7 बजे शशि पत्नी को यह बताकर घर से निकले की ढलाई ख़ातिर साइट पर बालू आया है गिरवाकर आते है। लेकिन जब शशि 10 बजे तक भी घर वापस नहीं लौटे तो पत्नी मंजू सिंह ने फ़ोन किया तो मोबाइल स्वीच ऑफ मिला।

घबराई पत्नी ने जब खोजबीन शुरू किया तो सुनील कुमार नामक एक स्थानिए निवासी ने बताया कि शिव मंदिर महुआ बाग के समीप से बोलेरो सवार तीन-चार अज्ञात लोग शशि को करीब 8:30 बजे बोलेरो में बिठा लिया और उनकी बाइक को बोलेरो सवार दो लोग बोलेरों के पीछे पीछे चलाते हुए साथ लेते गए।

उसके बाद से बीएमपी जवान से लगातार सपंर्क करने की कोशिश की गई, लेकिन नंबर बंद मिला। अनहोनी की आशंका से सहमे परिजनों संग थाना पहुचीं पत्नी मंजू सिंह ने रूपसपुर थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज कराया है।

Comments are closed.