बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

जनसरोकार (बड़ा खुलासा) – पटना के दीदारगंज टॉल प्लाजा और आरओबी से अगर आप गुजरते है तो यह ख़बर आप ही के लिए ही है…

220

पटना Live डेस्क। अगर आप पटना बख्तियारपुर फोर लेन पर सफर करते।टॉल देकर आते जाते है तो आपको होशियार रहने की जरूरत है। नही नही आप को टॉल वाले किसी प्रकार से नुकसान नही पहुचा रहे है। बल्कि इस हाइवे पर टॉल के अलावे भी आपकी जेब पर डाका डालने की विशेष तैयारी कुछ लोगो द्वारा अपने फायदे के लिए किए गए है। हद तो ये की ठंड का मौसम शुरू हो चुका है कुआसे कि जद धीरे धीरे सड़क पर धुंध के माफिक असरदार हो रही है। सडको पर धुंध अपने चरम पर होगा और साज़िश की किले भी नुकूली तो सावधान रहिए। पटना Live जनसरोकार से जुड़ी एक बेहद खास और खतरनाक सच के बाबत खुलासा करने जा रहा है।                                        कुछ लोगो की इस बेहद शातिराना चालबाजी की वजह से आपको कभी भी मुसीबत झेलना पड़ सकता है। और अगर रात का अंधेरा होते तो आपको इस मुसीबत की वजह से आपकी पूरी रात खराब हो सकती है या फिर डबल से ट्रिपल रकम खर्च करनी पड़ सकती है।


अगर आप दीदारगंज टॉल प्लाजा से होकर गुजरते है तो जरा सम्भकर चले क्योंकि यहा जितने भी डिवाइडर है उसके बीचो बीच लोहे की कीलों को बेतरतीबी से बिखेरा गया है।अब जब कीले होंगी तो टायर पंक्चर होगा ही और रोड के दाएं बाए पंचर की कई दुकानें भी है। शायद अब खेल कुछ कुछ आपके समझ मे आने लगा हो।यही हालत दीदारगंज आरओबी यानी रेलवे ओवरब्रिज के समीप भी है।
अब सवाल उठता है आखिर इन डिबाइडरो के बीच काटी कौन रखता है? रात हो तो आप कभी भी आपराधिक घटना के शिकार हो सकते है। हालांकि,टॉल-वे की तरफ से प्रत्येक दिन सफाई भी की जाती है। ये टॉल वालो का दावा है।फिर भी बावजूद इसके कीलें बदस्तूर बिखरी रहती है। अब सवाल है तो जवाब भी चाहिए तो जनाब गाड़ियों के पंचर ठीक करने की दुकानें सड़क की दोनों तरफ बहुतायत में मौजूद है। फिर क़िले आती कहा से है ? कुछ समझे या नही ? खैर, इस सड़क पर जारी गोरखधंधे के बाबत पटना Live के कमरे ने कुछ तस्वीरें सच को बयां करने ख़ातिर खिंची है।

 

 

Comments are closed.