BiG News- मुजफ्फरपुर में बेलगाम अपराधियों से निपटने ख़ातिर STF के 3 डीएसपी, 4 इंस्पेक्टर और 8 दारोगा नियुक्त, हर तरीक़े से निपटने की मिली छुट

239

पटना Live डेस्क। कभी उत्तर बिहार की औद्योगिक राजधानी के तौर पर मशहूर रहा जिला मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) वर्त्तमान दौर में बेलगाम अपराधियों के तांडव से कराह रहा है।लगातार आपराधिक वारदातों ने जिलावासियों का सुख चैन छीन लिया है। कोई ऐसा दिन नही गुजरता जिस दिन जिले में अपराध को कोई वारदात न होती हो। वही, घटना के बाद पुलिस रटारटाया बयान आता है, जांच में अहम सुराग मिले है अपराधियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

लेकिन हद तो तब हो गई जब शनिवार को बेखौफ अपराधियों ने ड्यूटी पर तैनात एक हवलदार की हत्या करने के बाद उसकी कार्रबाईन लूट ली और आराम से चलते बने। इस घटना की गूंज पटना स्थित पुलिस मुख्यालय (Police Headquarter) तक सुनी गई है।

             जिसका फलाफ़ल यह निकला है कि मुजफ्फरपुर में बढ़ते अपराध पर लगाम लगाने के लिये पुलिस मुख्यालय ने एक स्पेशल टीम को जिले में तैनात करने का फैसला किया है। यह टीम अपराधियो से हर तरीके से निपटेगी यानी टीम न केवल अपराधियों की गिरफ्तारी करेगी बल्कि जरूरत पड़ने पर एनकाउंटर (Encounter) भी करने से परहेज नही करेंगी। मतलब साफ है किसी भी तरीके से अपराध पर अंकुश लगाना इनका टास्क होगा। इस विशेष दस्ते में एसटीएफ (special task force) के 3 डीएसपी, 4 इंस्पेक्टर और 8 सब इंस्पेक्टर शामिल किए गए है। यह टीम सीधे तौर पर जिले के एसएसपी और आईजी को रिपोर्ट करेगी।

दरअसल, विगत कुछ महिनों में मुजफ्फरपुर समेत आस पास के इलाकों में ताड़बतोड़ आपराधिक वारदातों ने पुलिस महकमे के वरीय अधिकारियों को  सकते के हालात से दोचार करवा दिया है। बढ़ते अपराध और फिर सरेआम पुलिसकर्मी की हत्या कर कार्बाइन लूट की घटना के बाद पुलिस मुख्यालय ने फौरन निर्णय लेते हुए एक एसटीएफ की एक स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (special opration group) का गठन कर मुजफ्फरपुर तैनाती का आदेश दे दिया है।यह स्पेशल टीम जिले के सक्रिय अपराधिक गिरोह के बारे में जानकारी इकठ्ठा कर उनपर सीधे कार्रवाई करेगा ही साथ ही जिले के तमाम थानों में जिस किसी पुराने अपराधी की गिरफ्तारी नहीं हुयी है या कुर्की-जब्ती के आदेश का पालन नही किया गया होगा उसे भी अंजाम देगा। वही मिले टास्क को पूरा करने के दौरान इस दस्ते की मदद ख़ातिर जरूरत पड़ने पर पटना से एसटीएफ दस्ता भी पहुचेगा। यह विशेष दस्ता आईजी और एसएसपी के दिशा निर्देशों पर अभियान चलाएगा और उनको रिपोर्ट करेगा।

Loading...