BiG Breaking (वीडियो) पटना में सरेआम बीच सड़क लड़को के दो ग्रुप की खूनी भिड़ंत से मची भगदड़, 2 युवक गम्भीर रूप से जख्मी, एक को लगी गोली तो दूसरे को घोपा चाकू

1303

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना में एक बार फिर सरेआम बीच सड़क लड़को के 2 ग्रुप्स में हुई खूनी भिड़ंत से इलाके में अफ़रातफ़री का माहौल कायम हो गया है। खुरेजी की यह घटना पत्रकारनगर और कंकड़बाग थाना क्षेत्र के मलाही पकड़ी चौराहे से रामाश्रय सिंह पार्क ओर जाने वाली सड़क पर हुई है। घटना के बाबत चश्मदीदों ने बताया कि सरेआम बीच सड़क पर लड़को के दो ग्रुप में हुई इस भिड़त में जमकर पहले तो जमकर तू तू मैं मैं हुई फिर दोनो तरफ से मारपीट हुई। अचानक हुई इस भिडंत से सड़क पर भगदड़ के हालात बन गए। वही दहशत का आलम यह था कि धड़ाधड़ दुकानों के शटर गिरने लगे और सड़क से गुजर रहे लोग और वाहन के इधर उधर मुड़ गए।

वही, दोनो ग्रुप्स की इस भिड़त में पहले तो जमकर लातघुसे चले फिर अचानक एक ग्रुप के लड़के ने दूसरे ग्रुप के लड़के को गोली मार दी। फायरिंग की आवाज सुनते ही दोनो दलों के लड़के भागने लगे इसी बीच एक लड़को को पकड़कर विरोधी गुट ने सरेआम सड़क पर चाकुओं से गोद दिया और फिर दौड़ते हुए इंदिरानगर की ओर फरार हो गया। वही अचानक हुए इस खुरेजी की घटना से लोग बाग अभी भौचक्क ही थे कि भिड़ंत में घायल लड़का जमीन पर गिरकर तड़पने लगा। लड़के की पहचान नौबतपुर निवासी अमन के तौर पर हुई है। वही दूसरे घायल लड़के की पहचान निखिल के तौर पर हुई है।

 खूनी भिड़त का सच 

मिली जानकारी के अनुसार मकतूल अमन राज़ एक दोस्त की बहन के प्रेमी को समझाने के लिए पार्क के समीप गया था। समझाने के क्रम में  बात तू-तू, मैं-मैं से बढ़कर मारपीट में तब्दील हो गई। इसके बाद लड़की के प्रेमी ने दोस्तों के साथ मिलकर छात्र की हत्या कर दी। इस खुरेजी में  एक और युुवक के घायल हो गया है। उसका नाम निखिल बताया जा रहा है। हालांकि, वह पुलिस के सामने नहीं आया।

इधर, घटना के बाद अमन का शव PMCH रखा है। युवक्त के कत्ल की सूचना पर अस्पताल पहुंचे पुलिस पदाधिकारियों ने घटनास्थल पर अमन के साथ मौजूद उसके दोस्त से पूछताछ की। सिटी एसपी (पूर्वी) राजेंद्र सिंह भील ने बताया कि किसी लड़की के कारण छात्रों के गुटों में मारपीट और चाकूबाजी हुई, जिसमें अमन राज की मौत हो गई। अभियुक्त की पहचान कर ली गई है।

नौबतपुर का रहने वाला था छात्र

छात्र अमन राज मूलरूप से नौबतपुर थाना क्षेत्र के बिचली बाजार का रहने वाला था। वह पिता अशोक कुमार, मां और एक भाई और दो बहनों के साथ पूर्वी इंदिरानगर रोड नंबर तीन में किराए पर रहता था। एक सरकारी कॉलेज से वह इंटर की पढ़ाई कर रहा था। साथ ही राजेंद्रनगर स्थित रैंकर्स कोचिंग सेंटर में कॉमर्स की पढ़ाई करता था। उसके पिता अशोकनगर मोहल्ले में स्थित एक कपड़े की दुकान में काम करते हैं। वह दो भाइयों और बहनों में दूसरे स्थान पर था।

अभिषेक को बुलाया था समझाने के लिए

अमन के दोस्त ने बताया कि उसकी बहन भी रैंकर्स कोचिंग संस्थान में पढ़ती है। कुम्हरार निवासी अभिषेक से उसका प्रेम प्रसंग चल रहा था। घरवालों के विरोध के बावजूद अभिषेक छात्रा को कॉल करता था। इस लिए उसने अमन सहित अन्य दोस्तों के साथ मिलकर अभिषेक को समझाने का प्लान बनाया। कोचिंग से शाम करीब साढ़े बजे निकलने के बाद उन्होंने अभिषेक को कॉल कर रामाश्रय पार्क पर मिलने के लिए बुलाया था। वहां अभिषेक चार लड़कों के साथ पहुंचा और समझाने पर भी नहीं माना। इस दौरान अमन के साथ उसकी झड़प हो गई। इसके बाद अभिषेक लौट गया।

लौट कर साथियों संग आया और घोंपा चाकू 
झड़प के बाद उसवक्त तो अभिषेक वहां से चला गया पर थोड़ी देर दोबारा लौट कर आया। दरअसल कुछ देर बाद अभिषेक उन्हीं चार लड़कों के साथ लौटकर आया। आते ही फोन पर किसी से बात कर रहे अमन पर चाकु से वार करना शुरू कर दिया। दोस्त पर हमला होता देख बीच-बचाव ख़ातिर निखिल आगे बढ़ा तो उसे चाकू लग गया। जिससे वह जख्मी हो गया। वही घटना के चश्मदीद ने बताया कि हमलावर लड़को ने फायरिंग भी की जिससे दूसरा लड़का घायल हुआ है।

सरेआम हुई चाकूबाजी में घायल होकर सड़क पर तड़पते अपने दोस्त को उठाकर आनन फानन में साथ रहे दोस्त उसे लेकर नज़दीक के एक निजी नर्सिंग होम पहुचे लेकिन जख्मी की बेहद गंभीर हालत और लगातार बहते खून को देखकर उक्त नर्सिंग होम ने उसे PMCH रेफर कर दिया। लेकिन पीएमसीच जाने के क्रम में अमन की मौत हो गई जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

Loading...