BiG News (वीडियो) पटना में बाली उमर की इश्क में सरेआम कत्ल कर दिया गया 11वीं क्लास में पढ़ने वाला अमन राज़

1623

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना में पुलिस के तमाम दावों के उलट अपराधियों का दुःसाहस अपने चरम पर है। इसी क्रम में राजधानी पटना के कंकड़बाग थाना क्षेत्र के रामाश्रय सिंह पार्क के पास सोमवार की शाम सरेआम सैकड़ो आखों के सामने करीब साढ़े छह बजे इंटर फर्स्ट ईयर यानी 11वीं के छात्र अमन राज की चाकू गोदकर हत्या कर दी गई। इस हृदय विदारक हत्या के बाबत पटना Live ने जब अपनी तहकीकात शुरू की तो कुछ बेहद चौकाने वाले तथ्य सामने आये। दरअसल यह पूरा मामला कोचिंग मे पढने के दौरान एक लड़की से दोस्ती से जुड़ा है। यानी पढ़ने की उम्र में इश्किया ने एक छात्र की जान ले ली। यानी बाली उमर की मोहब्बत का फलाफल अमन की निर्मम हत्या के तौर पर हुई है।

BiG Breaking (वीडियो) पटना में सरेआम बीच सड़क लड़को के दो ग्रुप की खूनी भिड़ंत से मची भगदड़, 2 युवक गम्भीर रूप से जख्मी, एक को लगी गोली तो दूसरे को घोपा चाकू

क्या है पूरा मामला 
घटना पत्रकार नगर व कंकड़बाग थाने की सीमा पर स्थित मलाही पकड़ी मोड़ के रामाश्रय सिंह पार्क के समीप सोमवार की देर शाम घटित हुई। जहां लड़कों के एक ग्रुप ने कोचिंग कॉमर्स की पढ़ाई कर रहे छात्र अमन राज की चाकू गोदकर हत्या कर दी। अमन अशोक नगर का रहनेवाला था।

मिली जानकारी के अनुसार अमन मलाही पकड़ी के समीप एक संस्थान में पढ़ता था।वह शाम में कोचिंग से क्लास खत्म कर निकला और अपने पूर्व निर्धारित प्लान  के तहत रामाश्रय पार्क पहुचा। जहां मकतूल अमन की झड़प अभिषेक और उसके दोस्तों से हो गई। झड़प होने के बाद तत्काल अभिषेक और उसके दोस्त वापस लौट गए पर जब दुबारे लौटे तो अमन को घेर लिया। फिर ताबड़तोड़ उसके पेट व सीने में त चाकूओं से वार करने लगे। जिसकी वजह से बाद में उसने दम तोड़ दिया था।  हालांकि घटना के बाद स्थानीय लोगों की मदद से उसे कंकड़बाग स्थित एक निजी नर्सिंग होम में लेकर गए लेकिन उसकी हालत देखते हुए उसे पीएमसीएच रेेफर कर दीया गया, जहाँ  डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

 पटना Live ने ढूढ़ा सच 

वहीं अपनी शुरुआती छानबीन में पुलिस ने इलाके में सीसीटीवी के फूटेज को खंगाला तो उसमें करीब दर्जन भर लड़के एक-दूसरे पर  हमला करते हुए नजर आए हैं। यानी घटना को अंजाम देने वाले चेहरे दिखाई दिये है। जख्मी होने से पहले अमन अपने दोस्त से थोड़ी दूरी पर पार्क के समीप खड़ा होकर फ़ोन पर बात करता दिखाई देता है। इसी बीच 5-6 की सख्या में आये युवक उसको पकड़ लेते है। फिर अमन पर चाकूओं से कई वार करते है। चाकुओं से हमला होने पर जान बचाने ख़ातिर चाकू लगने के बाद भी अमन मौके से भागने की कोशिश भी करता है, लेकिन गंभीर रूप से जख्मी अमन कुछ दूर भागने के बाद जमीन पर गिर पड़ता है। शुरुआत में ही पुलिस द्वारा घटना के चश्मदीद और अमन के साथ रहे लड़के के बयान से पता चलता है कि खुरेजी का कारण एक लड़की है। यानी दोनों पक्ष के लड़कों में खूनी भिड़ंत का मूल कारण कोचिंग में पढ़ने वाली लड़की का चक्कर है।

 दोस्ती निभाने में कत्ल हुआ अमन का 

बहरहाल पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। लेकिन जब पटना Live ने अपनी तहकीकात की तो पता चला कि यह पूरा मामला एक लड़की से जुड़ा है। वही, आरोपी हत्यारा भी पूर्व में अमन के साथ ही कोचिंग में पढ़ता था। जहाँ उसकी दोस्ती लड़की से थी जिसकी वजह से हुए विवाद में कुछ दिनों पहले उसे कोचिंग से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था।

दरअसल, कत्ल कर दिया गया छात्र अमन राज मूलरूप से नौबतपुर थाना क्षेत्र के बिचली बाजार का रहने वाला था। पर उसका परिवार काफ़ी समय से पटना में रह रहा है। वह पिता अशोक कुमार, मां और एक भाई और दो बहनों के साथ पूर्वी इंदिरानगर रोड नंबर तीन में किराए पर रहता था। अमन एक सरकारी कॉलेज से वह इंटर की पढ़ाई कर रहा था।साथ ही राजेंद्रनगर स्थित रैंकर्स नामक कोचिंग सेंटर में कॉमर्स की पढ़ाई करता था। उसके पिता एक कपडे की दुकान में सेल्समैन का काम करते है। जो अशोक नगर में स्थित है। अमन दो भाइ और बहनों में दूसरे स्थान पर था।

खुरेजी के वक्त अमन के साथ रहे उसके दोस्त जिसकी बहन को लेकर यह विवाद खूनी शक्ल अख़्तियार कर गया  बताया कि उसकी बहन भी रैंकर्स कोचिंग संस्थान कामर्स की पढ़ाई करती है। कोचिंग में साथ पढ़ने वाले कुम्हरार निवासी अभिषेक के साथ मेरी बहन का प्रेम प्रसंग चल रहा था। मेरे और घरवालों के लगातार विरोध के बावजूद अभिषेक मेरी बहन को लगातार कॉल करता था। इससे आज़िज़ आकर मैंने अपने दोस्त अमन सहित अन्य दोस्तों के साथ मिलकर अभिषेक को अपनी तमाम हरकतों से बाज़ आने को समझाने का प्लान बनाया था।

कोचिंग से शाम करीब साढ़े बजे निकलने के बाद हमने अभिषेक को फोन किया और मिलने ख़ातिर रामाश्रय पार्क के पास मिलने के लिए बुलाया था। वहां अभिषेक चार लड़कों के साथ तय स्थान पर पहुंचा और हम सभी ने उसे समझाने की कोशिश की पर वह समझाने पर भी नहीं माना। मामला बिगड़ गया और अमन की अभिषेक से जमकर तू तू मैं मैं हो गई। दोनो के बीच झड़प हो गई। मामला बिगड़ गया तो उसवक्त तो अभिषेक अपने चारों दोस्तो के साथ लौट गया। लेकिन हम सभी वही खड़े रहे क्योकि अमन फ़ोन पर किसी से बाते करने लगा।

अभिषेक अपने 4 दोस्तों संग लौटा और फिर 

अमन फ़ोन पर बात कर रहा था और मैं वही खड़ा था। इसी बीच अचानक अभिषेक वहां अपने 4 दोस्तों के साथ आया। यह वही 4 लड़के थे जो पहले भी अभिषेक के साथ थे पर लौट गए थे।दोबारा लौटते ही उन्होंने अमन पर चाकू से हमला कर दिया। दोस्त पर हमला होते ही बीच-बचाव में निखिल को भी चाकू लगा, जिससे वह जख्मी हो गया।

Loading...