बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

चेन्नई वन डे में शुरुआती झटकों के बाद हार्दिक पांड्या और धौनी की जोरदार पारी,ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 282 रनों का टारगेट

178

पटना Live डेस्क.  चेन्नई के पी चिदंबरम स्टेडियम में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे पहले वनडे मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया के सामने जीत के लिए 282 रनों का लक्ष्य रखा है…  हरफनमौला हार्दिक पंड्या के आक्रामक 83 रन (66 गेंद,पांच चौके और पांच छक्‍के) और पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी के  79 रन (88गेंद, चार चौके, दो छक्‍के) की मदद से टीम इंडिया यहां पहले वनडे मैच में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ संघर्ष करते हुए 50 ओवर्स में 7 विकेट पर 281 रन के सम्‍मानजनक स्‍कोर खड़ा करने में सफलता पायी… टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी करते हुए टीम इंडिया की शुरुआत बेहद खराब हुई और स्‍कोर 11 रन तक पहुंचते-पहुंचते तीन विकेट गिर गए… कप्‍तान विराट कोहली और मनीष पांडे का तो आज खाता भी नहीं खुल सका. रोहित शर्मा ने 28 और केदार जाधव ने 40 रन की पारी खेली. इसके बाद धोनी ने हार्दिक के साथ 118 रन की साझेदारी की. इन दोनों के अर्धशतक ने टीम इंडिया को 250 रन के पार पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई. भुवनेश्‍वर कुमार 32 और कुलदीप यादव बिना कोई रन बनाए नाबाद रहे.
टीम इंडिया की शुरुआत अच्छी नहीं हुई अभी टीम का स्‍कोर 11 रन पर ही पहुंचा था कि अजिंक्‍य रहाणे (5)आउट हो गए. उन्‍हें नाथन कुल्‍टर नाइल की गेंद पर विकेटकीपर मैथ्‍यू वेड ने कैच किया. इसके बाद कप्‍तान विराट कोहली और मनीष पांडे के रूप में दो विकेट गिरने के बाद भारतीय टीम पूरी तरह बैकफुट पर आ गई. ये दोनों विकेट भी कुल्‍टर नाइट ने लिए. विराट कोहली (0) को उनकी गेंद पर मैक्‍सवेल ने खूबसूरती से लपका जबकि इसी ओवर की तीसरी गेंद पर उन्‍होंने मनीष पांडे (0) को विकेटकीपर मैथ्‍यू वेड से कैच कराया. टीम इंडिया के 11 रन पर तीन विकेट गिर चुके थे. इस स्थिति में रोहित शर्मा ने केदार जाधव के साथ अच्‍छी साझेदारी की और स्‍कोर 50 रन के पार पहुंचा दिया. जब ऐसा लग रहा था कि ये दोनों बल्‍लेबाज टीम इंडिया को मुश्किल से उबार लेंगे, तभी रोहित शर्मा (28 रन, 44 गेंद, तीन चौके) हरफनमौला स्‍टोइनिस की गेंद पर आउट हो गए. उनका कैच कुल्‍टन नाइल ने लपका.रोहित और जाधव ने चौथे विकेट के लिए 53 रन की साझेदारी की. 20 ओवर के बाद टीम इंडिया का स्‍कोर चार विकेट पर 84 रन था.

22वें ओवर में केदार जाधव (40 रन, 54 गेंद, पांच चौके) के आउट होने से टीम इंडिया को एक और झटका लगा. स्‍कोर 100 रन तक पहुंचने के पहले ही आधी टीम पेवेलियन लौट चुकी थी. केदार को स्‍टोइनिस की गेंद पर कार्टराइट ने कैच किया. स्‍टोइनिस का यह पारी का दूसरा विकेट रहा. एक तरह से शुरुआती 25 ओवर में ही टीम इंडिया मैच हार चुकी थी और 25 ओवर के पहले ही उसके पांच विकेट गिर चुके थे. 25 ओवर में टीम इंडिया का स्‍कोर पांच विकेट खोकर 104 रन था. धोनी ने इसके बाद चतुराई से हार्दिक पंड्या के साथ मिलकर भारतीय टीम के स्‍कोर को 150 रन के पार पहुंचा दिया. 35 ओवर के बाद टीम इंडिया का स्‍कोर पांच विकेट पर 146 रन था. स्पिनर एडम जम्‍पा की ओर से फेंका गया पारी का 37वां ओवर भारत के लिए बेहतरीन रहा.इस ओवर में हार्दिक ने लगातार तीन छक्‍के लगाए. ओवर की दूसरी गेंद पर उन्‍होंने चौका भी जमाया था. इस ओवर में 24 रन बने और देखते ही देखते स्‍कोर 36 ओवर पर 148 रन से छलांग लगाकर 37 ओवर में 172 रन पर पहुंच गया.

पंड्या का अर्धशतक 48 गेंदों पर तीन चौकों और दो छक्‍कों की मदद से पूरा हुआ. हार्दिक आखिरकार एडम जंपा के ही शिकार बने. उन्‍होंने 66 गेंदों पर पांच चौकों और पांच छक्‍कों की मदद से 83 रन बनाए. जंपा की गेंद पर उनका कैच फाल्‍कनर ने लपका. टीम इंडिया का छठा विकेट 205 के स्‍कोर पर गिरा. 45 ओवर के बाद टीम इंडिया का स्‍कोर छह विकेट खोकर 228 रन था. इसके बाद धोनी ने भुवनेश्‍वर कुमार के साथ भी अच्‍छी साझेदारी करते हुए टीम इंडिया को 250 रन के पार पहुंचाया.धोनी ने अपना अर्धशतक 75 गेंदों पर एक चौके की मदद से पूरा हुआ.धोनी आखिरकार पारी के आखिरी ओवर में आउट हुए. फाल्‍कनर की गेंद पर आउट होने के पहले उन्‍होंने 88 गेदों पर चार चौकों, दो छक्‍कों की मदद से 79 रन बनाए. भुवनेश्‍वर कुमार 32 और कुलदीप यादव बिना कोई रन बनाकर नाबाद रहे. ऑस्‍ट्रेलिया के लिए नाथन कुल्‍टर नाइल ने तीन और मार्कस स्‍टोइनिस ने दो विकेट लिए. फॉल्‍कनर और जंपा को एक-एक विकेट मिला.

Comments are closed.