BiG News – (वीडियो) फिर फूटा पारस हॉस्पिटल का पाप, पूर्व मंत्री श्याम रजक ने लगाए बेहद गंभीर आरोप

7218

पटना Live डेस्क। कलियुग में डॉक्टर को भगवान का दूसरा रूप कहा जाता है, लेकिन पटना के फाइवस्टार सुविधाओ वाले निजी अस्पताल पारस (Paras) हॉस्पिटल का एक बार फिर बेहद खौफनाक चेहरा सामने आया है। इस बार अस्पताल प्रबंधन पर बिहार सरकार के पूर्व मंत्री और सत्ताधारी दल से जुड़े कद्दावर विधायक ने बेहद गंभीर आरोप चस्पा किये है। उल्लेखनीय है कि पटना के इस चर्चित पारस अस्पताल  की कारगुजारियों समय समय पर समाचारों की सुर्खियां बनती रही है। यह वही अस्पताल है जिसके मृत को जबरिया ICU में रखकर इलाज के बहाने परिजनों से मोटी रकम वसूलने के वीडियो वायरल हुआ थ। तब मृतिका के परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर इलाज के नाम पर गलत बिल बनाने का आरोप लगाया था। पटना के शास्त्री नगर थाना में धोखाधड़ी के आरोप के तहत केस दर्ज कर लिया गया।

लेकिन, अस्पताल प्रबंधन की काली करतूत के खुलासे के बावजूद भी इस निजी संस्थान की सेहत पर की असर नही पड़ा। वही, समय समय पर लगातार और बारम्बार पारस का पाप फूटता रहा और समाचार जगत की सुर्खियां बनता रहा पर। एक बार तो सूबे के चर्चित एमपी पप्पु यादव ने बाकायदा अस्पताल की गेट पर धरना देते हुए इस निजी अस्पताल पर बेहद संगीन आरोप लगाया था पर समय के साथ पारस के प्रबंधन ने मामला मैनेज कर लिया।

पूर्व मंत्री श्याम रजक का जलाया पीठ

एक बार फिर पारस का पाप उजागर हुआ है। इस बार पटना स्थित पारस एचएमआरआई अस्पताल पर फुलवारी के विधायक एवं पूर्व मंत्री श्याम रजक ने मय सुबूत बेहद गंभीर आरोप लगाए हैं। पूर्व मंत्री श्याम रजक ने पारस अस्पताल पर गैर जिम्मेदाराना चिकित्सीय कार्य का शिकायत दर्ज कराया है।शिकायत में पूर्व मंत्री नए चिकित्सा के दौरान पीठ जला देने का आरोप लगाया है।

पूर्व मंत्री श्याम रजक ने कहा कि पटना के पारस हॉस्पिटल द्वारा पेसेंट के प्रति बहुत ही गैर जिम्मेदाराना रवैया दखने को मिला। खुद मुझे व्यतिगत रूप से इसका सामना करना पड़ा। कंधे और पीठ में दर्द के कारण मैं पिछले 3 दिनों से पारस हॉस्पिटल,पटना में भर्ती था। कल फिजियोथेरेपी के दौरान अस्पताल की लापरवाही की वजह से मेरी पीठ को जला दिया गया। जिसकी वजह से मेरी पीठ पर फोले हो गए हैं और असह्य दर्द व जलन है। अस्पताल प्रबंधन द्वारा भी ना तो कोई संतोषजनक जवाब दिया गया ना कार्रवाई की गयी।
पारस अस्पताल पर पूर्व से बेहद गंभीर आरोप
अंततोगत्वा अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ मैंने कंप्लेन दर्ज करवा दी है और पारस हॉस्पिटल को छोड़ कर राजेश्वर हॉस्पिटल में भर्ती हो गया हूँ। ज्ञातव्य हो के पटना के पारस अस्पताल पर पहले भी कई बार चिकित्सा के क्रम में लापरवाही का आरोप लगते रहे हैं।इसके बावजूद आज तक अस्पताल प्रबंधन पर किसी तरह का संज्ञान बिहार सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने नही लिया है।
श्याम रजक ने कराया FiR दर्ज 
इसके बाद विधायक श्याम रजक ने पारस अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ शास्त्रीनगर थाने में केस दर्ज करा दिया है।अब मामला पुलिस के हाथ में चला गया है। हाईप्रोफाइल मामला होने की वजह से शास्त्रीनगर पुलिस मामले की जांच मे जुट गयी है।हालांकि पूरे मामले में अस्पताल प्रबंधन की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आयी है।

Loading...