बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News – बिहार में जीत की खुशी मातमी चीख में तब्दील,भाजपाई नेता के बेटे की पीट पीट कर निर्मम हत्या कर पेड़ पर लटकाया

बिहार में भाजपा नेता के बेटे की निर्मम हत्या, जीत के जश्न में पटाखे छोड़ना पर नाराज़ लोगो ने दिया काण्ड को अंजाम

918

पटना Live डेस्क।बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के नतीजे आने के बाद से विजयी उम्मीदवारों और उनके समर्थकों द्वारा जमकर खुशी मनाई जा रही है वही पराजित खेमा हार के कारण तलाशने में भीड़ गया है। लेकिन इसी बीच चुनाव के नतीजे आने के बाद कटिहार में एनडीए की जीत की खुशी में पटाखे जलाने पर एक BJP नेता के बेटे की निर्मम हत्या का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि जिसकी मृत्यु हुई है। वह BJP बूथ अध्यक्ष और वार्ड मेंबर का बेटा था। दरअसल, खुशी के माहौल में पटाखे जला रहे BJP नेता के बेटे को दूसरे पक्ष के गुस्साए लोगों ने पहले तो बेरहमी से मारा फिर उसके शव एक पेड़ से लटका दिया। बता दें इलाके में जहाँ जश्न का माहौल था, अब वहीं भाजपा नेता के घर मातम पसर गया। मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।घटना को लेकर गांव में तनावपूर्ण स्थिति है।

निर्ममता की यह खबर कटिहार से सामने आई है। यहां पर जीत की खुशी मनाना एक युवक के लिए मौत का सबब बन गया। चुनाव में हासिल हुई जीत का जश्न मनाते देख अज्ञात युवकों ने भाजपा बूथ अध्यक्ष और वार्ड मेंबर के बेटे 18 वर्षीय पुत्र रंजीत कुमार की निर्मम हत्या कर दी है।मृतक के परिजनों ने बताया कि पटाखे जलाकर जश्न मनाने से विवाद इतना बढ़ गया कि कुछ अज्ञात युवकों ने BJP नेता के बेटे की पीट-पीटकर हत्या कर दी। यहीं नही हत्या करने के बाद शव को गांव स्थित दरगाह बहियार में एक पेड़ से लटका दिया।

भाजपा बूथ अध्यक्ष के बेटे हत्या

यह पूरी घटना मंगलवार की देर रात कटिहार के फलका थाना क्षेत्र के सोहथा उत्तरी पंचायत स्थित गोपालपट्टी गांव की है। इस घटना से पूरे गांव में सनसनी का माहौल पैदा हो गया है। वही।घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है। मामले में भाजपा बूथ अध्यक्ष दिनेश मुनि ने बताया कि उनके 18 साल के बेटे की बेरहमी से हत्या कर दी गई है। बता दें कि मृतक युवक की मां उषा देवी भी वार्ड सदस्य हैं।

कुछ लोग पटाखे जलाने से थे नाराज

भाजपा के बूथ अध्यक्ष दिनेश मुनि ने मामले में पुलिस को बताया कि सूबे में पार्टी की जीत से उत्साहित उनका बेटा पटाखा जला रहा था। बेटे के ऐसा करने से कुछ लोग खफा थे। जिसके बाद बुधवार सुबह उनके बेटे का शव दरगाह बहियार में एक पेड़ पर लटका मिला। परिजनों के मुताबिक, बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए को पूर्ण बहुमत मिलने की खुशी में पटाखे जलाने पर गांव के ही कुछ युवकों से बेटे और आरोपियों के बीच विवाद हो गया था।

मिले मारपीट और जख्म के निशान

परिजनों का कहना है कि उन्हीं लोगों ने उनके बेटे की हत्या की है। मृतक युवक के शरीर पर मारपीट और चोट के गहरे निशान भी थे। मृतक युवक के पिता के आवेदन पर फलका पुलिस मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई कर रही है।

 

Comments are closed.