बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

बड़ी खबर – (एक्सक्लूसिव) फिर सुशासन सरकार के शिक्षा विभाग ने किया कारनामा, अब कश्मीर को ही कर दिया पराया

250

पटना Live डेस्क। भारत सरकार चाहे लाख दावे करे कि कश्मीर हमारा है।कश्मीर देश का अभिन्न अंग है। लेकिन देश में कई ऐसे विभाग है जो कश्मीर को भारत का हिस्सा मानने की जगह उसे अलग देश मानते हैं। इसी कड़ी में बिहार की नीतीश कुमार की सुशासन सरकार में पहले फ़र्ज़ी टॉपर मामले ने शिक्षा विभाग की चुले हिला दी और इस बार तो आपको जानकर हैरानी होगी कि ना सिर्फ कश्मीर के अलगाववादी बल्कि नीतीश कुमार की बिहार सरकार का शिक्षा विभाग भी “कश्मीर” को अलग देश मानता है। बिहार शिक्षा परियोजना ने अपने एक प्रश्न पत्र में कश्मीर को अलग देश कहा है और बच्चों से पूछा है कि कश्मीर में रहने वाले लोगों को क्या कहते हैं?

दरअसल, 7वीं कक्षा की अंग्रेजी की परीक्षा में एक सवाल में खाली जगह भरने को कहा गया था। सवाल में पूछा गया था कि ‘नीचे लिखे देशों’ में रहने वालों को क्या कहा जाता है ? अब सवाल ये उठता है कि आखिर जिसने इस प्रश्न पत्र को सेट किया क्या उसे पता नहीं था कि कश्मीर अलग देश नहीं बल्कि भारत का ही हिस्सा है। और अगर प्रश्न पत्र सेट करने वाले से गलती हो गई तो क्या उसे बच्चों तक बांटे जाने से पहले किसी ने भी चेक नहीं किया।

 

Comments are closed.