बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

वायरल ऑडियो – ये ऑडियो सुनकर आपको राजद विधायक की लंगटई का अंदाज़ा हो जाएगा.. जिसको वो खुद बाबुलंद आवाज में कुबूलते भी है

417

पटना Live डेस्क। वर्त्तमान दौर में मुल्क में पत्रकारिता और पत्रकार घोर संकट में है। खबर लिखते या दिखाते ही फला का एजेंट तो फला का स्पोक्स पर्सन जैसे तोहमत लगने का सिलसिला शुरू हो जाता है। लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ का तगमा और कई तरह के तमाम विशेषण से विभूषित पत्रकारिता खाकी और खादी के निशाने पर है। हालात ये है कि विश्व मे सबसे खतरनाक जॉब के श्रेणी में शीर्ष पर है। वही बिहार की बात करे तो हालात बद से बदतर की ओर लगातार बढ़ चला है।विगत समय मे सिवान में पत्रकार की हत्या से सन्न सुबे का कलमकार वर्ग अब तक अंदर से हीला हुआ है। हालात ये है कि कलम की स्याही की जगह कलम खून के कतरे से सच उकेरने को बाध्य होती प्रतीत हो रही है। पर निज़ाम खामोश है आवाम की आवाज पत्रकार गहरे संकट में है।

ताजा वाक्ये में एक दैनिक अखबार के सेमापुर के प्रभात खबर के रिपोर्टर संजीव उर्फ़ पप्पू से फ़ोन पर सुबे के सत्ताधारी दल राजद के बरारी से विधायक नीरज यादव ने तमाम मर्यादाओं और तहज़ीब की सारी हदों को तोड़ कर न केवल फ़ोन पर लगटई करते हुए न केवल धमकी दी बल्कि माँ बहन रोटी बेटी कर सभ्य समाज के मुँह पर वो तमाचा जड़ा है जो बिहारी समाज को शर्माशर कर रहा है।सुनिए इस वायरल ऑडियो को और तय करिये की एक जनप्रतिनिधि क्या ऐसा ही होना चाहिए?


एक बड़ी त्रासदी ये है कि पत्रकार को गाली गलौज करने वाले विधायक खुद को पूर्व में पत्रकार होने का भी दावा करते है। नीरज यादव सत्ता पक्ष से है। हद तो ये कि न चाहते हुए भी सुबे की महागठबंधन सरकार के मुखिया नीतीश कुमार का कार्यक्रम ही इस त्रसाद और शर्माशर करने वाले वाक्ये का मूल कारण है। इधर प्रभात खबर के कटिहार के ब्यूरो चीफ राजकिशोर तो पत्रकार संजीव को अपने अखबार का सेमापुर से रिपोर्टर मानने को तैयार ही नहीं हैं। वैसे यह तो पूर्णतया स्पष्ट है कि झगड़ा का मूल कारण खबर को लेकर ही है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गुरुवार 15 जून यानी आज के दिन कटिहार में ही होंगे।

इस बेहद शर्माशार करने वाले ऑडियो
में कई तरह की बातें पत्रकार के बाबत विधायक कहते है। जैसेइस पूरी बातचीत में एक पूर्व विधायक का जिक्र आता है। नीरज यह कहते हैं कि रिपोर्टर पूर्व विधायक के प्रभाव में है। यह बात भी खुलती है कि रिपोर्टर की पत्नी शिक्षिका है। कभी वह खुद को राजद का आदमी कहते हुए अपनी बहन को प्रमुख बनाने के लिए विधायक नीरज यादव के पास पहुचे थे। यह दुर्भाग्य पूर्ण घटना 3 जून को फ़ोन पर घटित हुई।

Comments are closed.