बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

उत्तराखंड में 8 बिहारी मजदूरों की मौत, बेतिया के रहने वाले थे सभी

47

पटना Live डेस्क। एकबार फिर उत्तराखंड के नैनीताल में आफत की बारिश और भूस्खलन के कारण बिहार के पश्चिम चंपारण जिले के बेतिया के रहने वाले 8 मजदूरों की मौत की खबर आ रही है। मौत की सूचना पर परिजनों में कोहराम मच गया है। पूरे जिले में यह खबर आग की तरह फैल गयी। परिजनों का रो-रोकर बुरा है। मरने वालों में बैरिया के 5 और चनपटिया के 3 मजदूर बताए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि ये मजदूर नैनीताल में रहकर मजदूरी का काम करते थे।
मृतकों के घर में चीख-पुकार और कोहराम मच गया। जिले के 8 लोगों की मौत से उनके-उनके गांव में मातमी सन्नाटा फैल गया है। दो दिन पूर्व ही जिले के साठी थाना क्षेत्र के बेलवा गांव के रहने वाले 3 मजदूरों की नैनीताल में मौत हो गयी थी। मृतकों के नाम धुरेन्दर प्रसाद कुशवाहा, नूर आलम मियां और नबी हसन था। वहीं, इस प्राकृतिक आपदा में गांव के ही एक अन्य व्यक्ति भी घायल हो गया था। अभी जिले के लोग इस सदमे से उबरे भी नहीं थे कि आज 8 मजदूरों की मौत की खबर पहुंच गयी। जिससे कोहराम मच गया है।
बता दें कि नैनीताल समेत उत्तराखंड के विभिन्न हिस्सों में पिछले कई दिन से लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से बाढ़ और भूस्खलन हो रहा है। इस प्राकृतिक आपदा में कई मकान ढह गए हैं। अभी तक 36 लोगों की मौत हो गई है जबकि कई लोग जहां-तहां मलबे में फंसे हुए हैं। नैनीताल सबसे बुरी तरह प्रभावित है, उसका संपर्क राज्य के बाकी हिस्सों से कट गया है। क्योंकि भूस्खलन से जिले की ओर जाने वाले तीन रास्ते अवरुद्ध हो गए हैं।

Comments are closed.