‘पहले बीजेपी लालू से ही डरती थी अब मुझसे भी डर रही है’-तेजस्वी

29

पटना लाइव डेस्क | राज्य में सीबीआई छापेमारी और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के खिलाफ एफआईआर के बाद बढ़ी सियासी सरगर्मी के बीच तेजस्वी यादव ने खुद को निर्दोष बताया है और अपने उपर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों को बीजेपी की साजिश करार दिया है. तेजस्वी ने आरोपों को बीजेपी की चाल बताते हुए कहा कि वो जनता के बीच जाएंगे. तेजस्वी यादव कैबिनेट की बैठक के बाद मीडिया के सवालों का जवाब दे रहे थे. उन्होंने कहा कि बीजेपी से यह पूछा जाना चाहिए कि महज 14 साल का लड़का भ्रष्टाचार कैसे कर सकता है? उन्होंने कहा कि पहले बीजेपी लालू से ही डरती थी लेकिन अब वो एक 28 साल के नौजवान से डर रही है.
डिप्टी सीएम ने कहा कि ये सब पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह की साजिश है. जब से बिहार में गठबंधन बना है इसे तोड़ने की पुरजोर कोशिश की जा रही है, लेकिन ये कोशिश नाकाम हो जाएगी. तेजस्वी यादव ने कहा कि भ्रष्टाचार को लेकर वो जीरो टॉलरेंस की नीति पर चलते हैं. जिस समय के मामले को लेकर मुझपर आरोप लगाए जा रहे हैं,मेरी तो उस समय मूंछे भी नहीं आयी थीं. उन्होंने कहा कि मैं अपनी बात को लेकर जनता के बीच जरूर जाउंगा, जनता मेरे साथ खड़ी है, मुझे जनता ने ही समर्थन दिया तो मैं इस पद को संभाला और पूरी निष्ठा से अपने कर्तव्य का पालन किया। बिहार की जनता मेरे लिए सर्वोपरि है और जनता पर मुझे पूरा भरोसा है। तेजस्वी ने कहा कि इतनी कम उम्र में मुझे जो जिम्मेदारी सौंपी गई मैंने अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभाई है। मेरे किसी भी विभाग में कोई गड़बड़ी नहीं हुई है, दरअसल, बिहार में अच्छा काम हो रहा है विकास का काम तेजी से हो रहा है, जो लोगों को पसंद नहीं आ रहा और इसमें बाधा डालने के लिए महागठबंधन को तोड़ने की पुरजोर कोशिश हो रही है।