Exvlusive(वीडियो) – एक बिहारी सपूत की दर्द भरी पुकार और नौगछिया एसपी की करतूत का खोला राज…पीएम से पूछा देश सेवा करू या क्रिमिनल्स से लडू ??

कुलदीप भारद्वाज संग मनोज कुमार

पटना Live डेस्क । एक बिहारी सपूत की दर्द भरी पुकार और नौगछिया एसपी की करतूत का खोल राज… कहा देश सेवा करू या क्रिमिनल्स से लडू ?? ये महज एक सवाल नही है भारत के माथे पर लगा काला धब्बा है ? क्योंकि ….उसकी आँखों मे आंसू है। बार बार गला रुध रहा है। शब्दो को टटोल रहा है। अपनी बूढ़ी माँ को दर दर भटकने का दर्द उसके चेहरे पर साफ दिख रहा है। तभी तो वो कहता है मैं देश की सेवा करू या क्रिमिनलो से लडू? मेरे गाँव रसूलपुर, पुलिस जिला नौगछिया,भागलपुर बिहार में है। एक कुख्यात गुंडे का बेटा थानाप्रभारी सहित ख़ाकी और खादी के खतरनाक मेल से एक फौजी का घर कब्ज़ा लेता है। दरवाजे पर ताला मार देता है। उसका परिवार दर दर भटकने को मजबूर हो गया है। दर्द जब सारी सीमाएं तोड़ गया तो वो वजीरे आज़म हिंदुस्तान और अवाम के सामने एक गुहार लगा रहा है …. मेरा नाम सुमित कुमार है ….मैं सेना में सिपाही हूँ …मैं देश की सेवा करू या ……सुनिए एक बावफ़ा सिपाही और बेवफा लोकल प्रशासन के सामने मजबूर फौजी के दर्द को ….