भारतीय बल्लेबाजों ने की श्रीलंकाई बॉलरों की जमकर धुनाई, पहले दिन ही बना डाले 399 रन

पटना Live डेस्क. भारत और श्रीलंका के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के पहले दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने अपनी पहली पारी में तीन विकेट पर 399 रनों का विशाल स्कोर खड़ा कर अपनी स्थिति काफी मजबूत कर ली है. चेतेश्वर पुजारा 144 रन जबकि आजिंक्य रहाणे 39 रन बनाकर फिलहाल क्रीज पर हैं. किसी टेस्ट मैच के पहले ही दिन यह भारत का दूसरा सर्वश्रेष्ठ स्कोर है. इससे पहले भारत ने साल 2009-10 में श्री लंका के ही खिलाफ टेस्ट मैच के पहले दिन 417 रन बनाए थे. यह टेस्ट मैच कानपुर में खेला गया था.
इससे पहले भारत ने अलग-अलग सत्रों में ओपनर बल्लेबाजों के विकेट खोए.  भारत ने पहले सत्र में मुकुंद के रूप में अपना पहला विकेट गंवाया और 115 रन जोड़े. मुकुंद ने 12 रन बनाए. दूसरे सत्र में भारत ने एक विकेट के नुकसान पर 167 रन जोड़े. धवन दूसरे सत्र का खेल खत्म होने से कुछ देर पहले आउट हुए.

मेहमान टीम की ओर से मैदान पर उतरी मुकुंद और धवन की नई सलामी जोड़ी टीम को अच्छी शुरुआत देने की कोशिश में लगी थी. तभी नुवान प्रदीप की एक गेंद मुकुंद के बल्ले का बाहरी किनारा लेकर विकेटकीपर निरोशन डिकवेला के हाथ में चली गई. मुकुंद 27 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौटे. उन्होंने अपनी पारी में 26 गेंदें खेलीं और दो चौके लगाए.

यहां से पुजारा और धवन ने पारी को आगे बढ़ाया और दोनों ने पहले सत्र के अंत कोई और विकेट नहीं गिरने दिया और तेजी से रन बनाए. पहले सत्र में श्री लंकाई गेंदबाजों पर बनाए गए दबाव को इस जोड़ी ने दूसरे सत्र में कायम रखा और आसानी से रन बनाते रहे. श्री लंका की गेंदबाजी में धार नहीं दिखी और यह धवन तथा पुजारा को परेशान भी नहीं कर पाई. दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 253 रनों की साझेदारी की.

वापसी कर रहे धवन जब दोहरे शतक के करीब थे इसी दौरान धवन ने प्रदीप की गेंद पर आगे निकल कर मिड ऑन के ऊपर से मारने का प्रयास किया, लेकिन गेंद सीधे एंजेलो मैथ्यूज के हाथों में चली गई. मैथ्यूज ने कैच लपकने में कोई गलती नहीं की और धवन पवेलियन लौट लिए. धवन का विकेट 280 के कुल स्कोर पर गिरा. धवन ने अपनी धमाकेदार पारी में 168 गेंदें खेलीं और 31 चौके जड़े.

भारतीय टीम ने इस मैच में हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पंड्या को मौका दिया है. रोहित शर्मा टीम में जगह नहीं बना पाए हैं. पंड्या के आने से टीम को एक तेज गेंदबाजी का ऑप्शन मिला है. इसके साथ ही मोहम्मद शमी और उमेश यादव भी टीम में शामिल हैं. स्पिन की कमान अश्विन और रविंद्र जाडेजा के हाथ में है. धर्मशाला में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने पहले ही टेस्ट मैच में चार विकेट लेने वाले कुलदीप यादव प्लेइंग 11 में जगह नहीं बना पाए. मुरली विजय और केएल राहुल बीमार होने के चलते नहीं खेल रहे हैं.