बड़ी खबर – बिहार की भाजपा जदयू सरकार की अग्निपरीक्षा यानी लोकसभा और विधानसभा चुनाव की तिथि घोषित,11 मार्च को मतदान

पटना Live डेस्क। बिहार की महागठबंधन सरकार की टूट के बाद भाजपा के साथ सरकार चला रहे जदयू अध्यक्ष और सूबे के सीएम नीतीश कुमार के लिए 2019 के आम चुनाव से पहले अग्निपरीक्षा खातिर लोकसभा और विधानसभा उपचुनाव खातिर चुनाव आयोग नेे दिन मुकर्रर कर दिया हैं।
बिहार के अररिया लोकसभा और कैमूर व जहानाबाद विधानसभा क्षेत्र के लिए उपचुनाव की घोषणा चुनाव आयोग कर दी है। चुनाव आयोग ने इन सीटों पर 11 मार्च को मतदान कराने की तिथि तय कर दी है। वही 14 मार्च को मतगणना पूरी करने की भी बात कही है। इसके लिए नामांकन की प्रक्रिया 13 फरवरी से शुरू हो जायेगी। उम्मीदवार 20 फरवरी तक नामांकन भर सकते हैं।वहीं नाम वापस लेने की आखरी तारीख 23 फरवरी रखी गई है।
विदित हो कि राजद सांसद तस्लीमुद्दीन के निधन के बाद अररिया लोकसभा सीट खाली हो गई थी। वहीं जहानाबाद के राजद विधायक मुंद्रिका सिंह यादव और भभुआ के भाजपा विधायक आनंद भूषण पांडेय की मौत के बाद ये दोनों सीटें खाली हो गई थी। बताया जा रहा है कि बिहार में होने वाला यह उपचुनाव सत्तारूढ़ जदयू के लिए अग्निपरीक्षा है।
वहीं केंद्र की सत्ता संभाल रही भाजपा सूबे की सरकार के साझीदार है। चुनाव को 2019 लोकसभा चुनाव से पहले का सेमीफाइनल बता रही है। पिछले चुनाव में तीनों सीटों में से दो पर राजद ने और एक पर भाजपा ने अपना कब्जा जमाया था।इस उपचुनाव को राज्य व केंद्र की सत्ताधारी भाजपा पार्टी और जदयू के साथ ही लोजपा, रालोसपा और हम अपनी प्रतिष्ठा का विषय मान रही है। वहीं विपक्ष इन सीटों पर अपना कब्जा जमाकर सत्ता पक्ष का भ्रम तोड़ने के मूड में दिख रही है। इधर राजद के साथ कांग्रेस भी अपने सियासी समीकरण को दुरुस्त करने की कवायद में जुट गई है।ऐसे में आने वाले समय में बिहार की सियासत  में जबरदस्त मुकाबला देखने को मिलने वाला है।