ब्रेकिंग (सिटीवीवी फुटेज) – कुख्यात “ब्लैक डॉग” को गोली मारने वाला लड़की के अपहरण में पिस्टल संग चढ़ा पटना पुलिस के हत्थे

0
81

बृजभूषण कुमार, ब्यूरो प्रमुख, पटना सिटी 

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना में 3 नवम्बर को कदमकुआं थाना क्षेत्र के मछुआटोली स्थित अबुलास लेन में देर शाम चीकू उर्फ चिंटू उर्फ ब्लैक डॉग को घर से बाहर बुलाकर गोली मारने की घटना में शामिल रहा नामजद अपराधी नीरज कुमार को सुलतानगंज थाना क्षेत्र से 16 नवम्बर को एक लड़की के अपहरण के दर्ज मामले में लड़की के परिजनों ने पकड़कर पुलिस के सुपुर्द किया है। वही जब आरोपी की तलाशी ली गई तो उसके कब्जे से एक पिस्टल और एक गोली भी बरामद किया गया है। गिरफ्तार अपराधी का आपराधिक इतिहास रहा है। शहर के विभिन्न थाना क्षेत्रों में पकड़े गए नीरज के खिलाफ लूट,अपहरण और हत्या के प्रयास समेत कई मामले दर्ज है। नीरज की गिरफ्तारी के बाद कदमकुआँ थाना पुलिस उसे रिमांड पर लेकर ब्लैक डॉग पर गोली चलाने के जुर्म  में नीरज से पूछताछ कर मामले में कांड में शामिल अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी सुनिश्चित करने के प्रयास करेगी।
उल्लेखनीय है को जरायम की दुनिया मे पूर्व ब्लॉक डॉग के नाम से चर्चित रहा चिंटू गुप्ता को घर स्व बुलाकर गोली मारी गई थी। इस पूरी घटना की सीसीटीवी फुटेज पटना Live से एक्ससीलुसिवली अपने पाठक तक पहुचाया था।

गोली चिंटू गुप्ता के पेट में लगी थी और परिजनों ने उसे गंभीर हालत मे बहादुर स्थित एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया।वही पुलिस को घायल पूछताछ में पता चला था कि चिंटू को फोन कर उसके दोस्त ने सैदपुर बुलाया। वहां उसके दोस्त नीरज और सूरज मौजूद थे तीनों बिना नंबर की बाइक से मछुआटोली पहुंचे। इसके बाद अबुलास स्थित सूरज के घर के लिए तीनों रवाना हुए। अबुलांस लेन पहुंचते ही चिंटू को उसके दोस्त ने गोली मार दी। पिस्टल से गोली उसके पेट में सटाकर मारी गई। इसके बाद दोनों फरार हो गए। गोली चलने की आवाज से सुन आसपास के लोग जुट गए।
वही यह पूरी घटना गली में लगे एक दुकान के सीसीटीवी में कैद हो गया था। चिंटू ने सूरज और नीरज को आरोपित बनाया है। उसने पुलिस को बताया कि सूरज और नीरज वर्ष 2014 जेल भेजे गए थे। जेल से बाहर आने के बाद दोनों को पता चला कि जेल भिजवाने में चिंटू का हाथ है। इसके बाद से दोनों मौके की तलाश में थे।वही दूसरी तरफ गोली मारकर सभी शातिर फरार हो गए थे। घटना के बाद से कदमकुआं थाना पुलिस तब से इस शातिर की गिरफ्तारी के प्रयास में थी। वही गिरफ्तार अपराधी से पुलिस को उम्मीद है कि पूछताछ और सत्यापन में कई अन्य मामलों में इसकी संलिप्तता के खुलासे होंगे। इस बाबत एएसपी पटना सिटी हरिमोहन शुक्ला ने बताया कि