मुर्दे ने तय कर लिया हजारों मील का सफर, भारतीय रेल का कारनामा

0
8

पटना Live डेस्क। आप माने या ना माने, पर बात बिलकुल सत्य है। एक मुर्दा डाउन श्रमजीवी एक्सप्रेस की एस 5 बोगी में पड़ा रहा और दिल्ली से फतुहा पहुंच गया। फतुहा रेल पुलिस की संवेदना जगी और उसने फतुहा में शव को उतारा और अग्रेतर कार्रवाई में जुट गई।

 यात्रियों की माने तो डाउन श्रमजीवी एक्सप्रेस की एस 5 बोगी में बाथरूम के पास एक वृद्ध की लाश पड़ी थी। संभवतः मृतक भिखारी था और ट्रेन में भीख मांगते-मांगते दिल्ली में ही उसकी सांसें थम गईं। कई स्टेशनों पर उसे उतारने के लिए यात्रियों ने प्रशासन से गुहार लगाई, हंगामा किया लेकिन सभी ने पल्ला झाड़ लिया। अंततः फतुहा में यात्रियों की शिकायत पर रेल पुलिस की संवेदना जगी और लाश को ट्रेन से उतार लिया गया। बकौल रेल थानाध्यक्ष सिद्धेश्वर पाठक यदि यात्रियों की शिकायत पर ध्यान देते हुए दिल्ली या आसपास के स्टेशनों पर शव उतारा जाता तो शव की पहचान की संभावना प्रबल थी। लेकिन अब यहां उतारने के बाद उसकी पहचान होने की बचीखुची उम्मीद भी जाती रही है।

Loading...