बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Exclusive – राजद,राजगीर,इमरान और रोहित चक्रवर्ती वेमुला की लटकती तस्वीर

34

पटना Live डेस्क। राजद द्वारा राजगीर में आयोजित तीन दिवसीय कार्यकर्ता शिविर सह राष्ट्रीय कार्यकारणी की बैठक का आयोजन किया गया। इस आयोजन का मकसद कार्यकर्ताओं को वर्ष 2019 खातिर न केवल प्रशिक्षित करना रहा बल्कि वोट बैंक की सियासत के वर्त्तमान में बदलते आयाम को राजद के करीब लाना रहा,तो दूसरी तरफ 70 साल के हो चुके लालु यादव ने राजद और अपना उत्तराधिकारी भी तय कर दिया। खैर बात सियासत के माहिर खिलाड़ी लालु द्वारा राजगीर के जरिये साधे गए कई निशानों की करते है।


ढलती उम्र और भाजपा के मोदीमैजिक के बढ़ते दायरे को मिलती कामयाबी के बीच लालु ने राजगीर में कई अहम फैसले लिए तो कई कवायदों से पार्टी को दलित और अल्पसख्यको के हितैषी दिखाने का प्रयास और प्रदर्शन  भी किया गया। राजगीर के कॉन्वेशन हाल के मंच के ठीक सामने लगी 5 तस्वीरें भी बहुत बड़ा संदेश दे गई। तो लगे हाथ राजद मंच से सम्मान के नाम पर दिलीप मंडल जैसे दलित चिंतक और अपनी कौम के दर्द,सितम और भलाई को बाबुलंद मुशायरों में गरजने वाले इमरान प्रतापगढ़ी जो छोटे ओवैसी को खुलेआम मर्दे मुजाहिद कहने को लेकर चर्चित है अल्पसख्यक वर्ग के उम्र विशेष के युवाओं के बीच बेहद मकबूल इमरान को सम्मानित कर भी कई संदेश देने को कोशिश की गई।


साथ ही खुद को और राजद को भाजपा आरएसएस और पीएम नरेंद्र मोदी का सबसे बड़ा सियासी विरोधी साबित करने की कवायद के तहत लालू प्रसाद यादव ने राजगीर में आयोजित पार्टी के कार्यकर्ता सम्मेलन के आखिरी दिन संबोधित करते हुए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर तीखे सवालों द्वारा जोरदार हमला बोला।साथ ही अपने आगामी कार्यक्रमों की भी घोषणा की। लालू प्रसाद यादव ने कहा कि 27 अगस्त को पटना के गांधी मैदान में उनकी पार्टी की रैली होगी, जिसका प्रमुख नारा होगा -भाजपा हटाओ,देश बचाओ।


लालू ने कहा है कि इस रैली में देश के सभी सामाजिक न्याय वाले व धर्मनिरपेक्ष नेताओं को बुलाया जायेगा।लालू ने कहा कि आरएसएस वाले देश में अशांति फैलाना चाहते हैं।लालू प्रसाद ने आरोप लगाया कि धर्म और नस्ल के नाम पर देश के टुकड़े करने की साजिशें हो रही हैं। हमें देश और संविधान को बचाना है,तभी हम भी बच पायेंगे।
ये तमाम बातें और दावे राजद सुप्रीमो द्वारा किये जा रहे थे। साथ ही खुद को जात नही जमात की सियासत करने वाला कहने से भी नही अघाने वाले लालु खुद को लोहिया,जेपी और अम्बेडकरवादी कहते हुए गांधी की नीतियों को अपना मूल बताते है। पर लालु वोट बैंक पुख्ता करने खातिर 17जनवरी16 को हैदराबाद विश्वविद्यालय में आत्महत्या करने वाले पीएचडी के छात्र रोहित वेमुला को गांधी, लोहिया,अम्बेडकर और जेपी के समक्ष मान कर उसकी तस्वीर लटका देते है।


राजगीर का संदेश स्पष्ट है राजद बतौर सियासी दल 2019 के लोकसभा चुनाव में सेकुलर पार्टियों का महागठबंधन तैयार कर भाजपा से मुकाबला करने की तैयारी तो करही रहा है साथ ही लालु यादव अपने बेटों के हाथ मे राजद की कमान देने की घोषणा कर रघुवंश, जगदानंद समेत दल के तमाम बड़े चेहरों को संदेश दे चुके है। मतलब राजद, राजगीर, इमरान प्रतागढ़ी और रोहित चक्रवर्ती वेमुला की लटकती तस्वीर पार्टी में नए युवा निज़ाम की घोषण के लिए काफी है।

Comments are closed.