बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

बड़ी खबर – बेंगलुरु में वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या, हमलावरों ने घर के गेट पर खड़ी गौरी को मारी ताबड़तोड़ 3 गोलिया

234

पटना Live डेस्क। कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। गौरी लंकेश, कन्नड़ कवि और पत्रकार पी लंकेश की सबसे बड़ी बेटी थीं। शुरुआती रिपोर्ट के मुताबिक गौरी पर बेहद नजदीक से हमलावरों ने तीन गोलियां मारीं। गंभीर रूप से घायल लंकेश की मौके पर ही मौत हो गई। उनको पहले भी जान से मारने की धमकियां मिल चुकी थीं।वैचारिक मतभेदों को लेकर वह कुछ लोगों के निशाने पर थीं। वह कन्नड़ भाषा में एक साप्ताहिक पत्रिका अखबार निकालती थीं। उन्हें बेहद निर्भीक और बेबाक पत्रकार माना जाता था।वह कर्नाटक की सिविल सोसायटी की चर्चित चेहरा थीं। गौरी लंकेश, कन्नड़ कवि और पत्रकार पी लंकेश की सबसे बड़ी बेटी थीं।

मिली जानकारी के अनुसार गौरी पर बेहद नजदीक से हमलावरों ने तीन गोलियां मारीं गई। बक़ौल पड़ोसियों के 55 साल की गौरी लंकेश को मोटरसाइकल सवार 3 हमलावरों ने रात में 8 बजकर 25 पर गोली मार दी और फरार हो गए। हमले के वक्त गौरी अपने घर के गेट पर खड़ी थीं। फायरिंग के दौरान उनके गर्दन और सीने पर गोली लगी।


बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर टी सुनील कुमार ने गौरी लंकेश की हत्या की पुष्टि की है। आला पुलिस अधिकारी मौका मुआयना करने पहुंच चुके हैं।अधिकारियों ने इस घटना की जांच के लिए स्पेशल टीम गठित करने की बात कही है। केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन ने इस घटना पर क्षोभ व्यक्त करते हुए कहा है कि बहादुर पत्रकार और कार्यकर्ता गौरी लंकेश की हत्या से स्तब्ध हूँ। दोषियों को जल्द से जल्द पकड़ा जाए।

वही घटना के बाबत मकतूल गौरी के छोटे भाई और पत्रकार इंद्रजीत लंकेश का कहना है कि इस हत्या से वह स्तब्ध हैं। उन्हें हत्यारों के उद्देश्य बारे में कोई अनुमान नहीं है।

Comments are closed.