बिहार में 18 जून को होने वाली सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा के लिए 78 केन्द्रों का दौरा करने पहुंचे मजिस्ट्रेट

0
10

पटना Live डेस्क। 18 जून, रविवार को संघ लोक सेवा आयोग की ओर से सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा पटना में 78 केन्द्रों पर होगी। परीक्षा से संबंधित तैयारी के लिए शुक्रवार को एस.के.मेमोरियल हॉल में आयुक्त आनंद किशोर ने बैठक की थी, जहाँ परीक्षा के लिए प्रतिनियुक्त केन्द्राधीक्षकों, मजिस्ट्रेट, जोनल मजिस्ट्रेट एवं पुलिस पदाधिकारियों को संयुक्त रूप से प्रशिक्षित किया गया। बता दें कि परीक्षा केन्द्रों के आस-पास 100 मीटर के दायरे में धारा 144 लागू की गई है। परीक्षा के दौरान आसपास के क्षेत्र में किसी भी तरह के लाउडस्पीकर के बजाने पर रोक लगा दी गई है।

आयुक्त ने परीक्षा हॉल में परीक्षार्थियों के साथ साथ पुलिस पदाधिकारी, परीक्षा केन्द्र इनविजिलेटर, केन्द्राधीक्षक, मजिस्ट्रेट या निरीक्षण में जाने वाले कोई भी पदाधिकारी को भी मोबाइल या किसी भी तरीके के इलेक्ट्रॉनिक सामान ले जाने की रोक लगायी है। अगर कोई भी आदेश का पालन नहीं करते दिखेगा तो इस बात का घोषणपत्र केन्द्राधीक्षक को ले कर रखना होगा और एक कॉपी यूपीएससी के भेजना होगा। आज, परीक्षा के एक दिन पहले मजिस्ट्रेट और पदाधिकारी सभी केन्द्रों का दौरा करेंगे। परीक्षा से सम्बंधित सभी तैयारी और बेहतर संचालन के लिए एक दिन पहले ही सारे कार्य कर लेने का निर्देश दिया गया है।

बिजली की समस्या परीक्षा में खलल न पैदा करे इसके लिए पेसू के जी.एम. को ख़ास निर्देश दिया गया है। केन्द्राधीक्षकों को भी अपने केन्द्रों पर विकल्प के रूप में जेनरेटर रखने को आदेश दिया गया है। आयोग ने निर्देश दिया है कि प्रत्येक परीक्षा केन्द्रों पर 50 प्रतिशत वीक्षक उस परीक्षा केन्द्र के बाहर से ही हो। परीक्षा शुरू होने से पहले केन्द्र परिसर के मुख्य द्वार पर प्रत्येक परीक्षार्थियों की जांच की जाएगी। महिला परीक्षार्थियों की जांच महिला पुलिस करेगी। परीक्षा समय पर शुरू करने का आदेश सभी केन्द्राधीक्षकों को दिया गया है और परीक्षा शुरू होने से 10 मिनट पहले तक ही परीक्षार्थियों को परीक्षा केन्द्र में प्रवेश करने अनुमति है।

Loading...