गया में महादलित महिला के साथ तीन युवकों ने किया गैंग रेप, 10 हजार रुपये समेत मोबाइल भी लुटा

0
44

मनोज कुमार सिंह, संवाददाता, गया

पटना Live डेस्क। सूबे में सुशासन की सरकार है। सूबे में महिला सशशक्तिकरण के दावे लगातार शासन द्वारा किया जाता है। लेकिन ज़मीनी हकीकत ठीक इस के उलट है। ग्रामीण क्षेत्रो में दबंगो कहर लागतार जारी है। इसी कड़ी में गया जिले के नीमचक बथानी थाना क्षेत्र के नवादा पर गांव में बुधवार की शाम एक महादलित महिला से गैंग रेप किया गया। महिला के साथ सामूहिक बालात्कार की घटना को तब अंजाम दिया गया जब  पीड़िता सरबहदा बाजार स्थित बैंक से दस हजार रुपये की निकासी कर अपने घर लौट रही थी।
गांव पहुंचने पर से कुछ दूर पहले ही गांव के बधार में तीन युवकों नें उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और उससे दस हजार रुपये समेत मोबाइल भी छीन लिया गया। घटना के बाद जब सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता के साथ जब गांव की अन्य महिलाएं आरोपित के घर जा कर पैसे लौटाने की गुहार लगाने लगी तो अपनी दबंगता और गुंडई का खुला मुजाहिरा करते हुए
आरोपितों ने पीड़िता की सरेआम निर्मम पिटाई कर दी।  इसके बाद पीड़िता ने थाने में इसकी शिकायत करते हुए तीन लोगों को नामजद किया है।
सामूहिक दुष्कर्म की घटना के बाबत  बथानी थानाध्यक्ष शशिभूषण सिंह ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए प्रभावती अस्पताल भेजा गया है। वही दूसरी तरफ नामजद आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस द्वारा लागतार छापेमारी की जा रही है।
वही सामूहिक दुष्कर्म के बाबत गाँव नवादापर के ग्रामीणों ने बताया कि यह पहला वाक्य नही है जब दबंगों ने गांव की महिला की आबरू के साथ खिलवाड़ किया है। पूर्व में भी गांव की ही तीन अन्य महिलाओं के साथ दुष्कर्म की घटना को दबंगो द्वारा अंजाम दिया गया था। लेकिन दबंगो की गुंडई और
दबदबे के डर से महिलाओं ने अपनी जुबान बंद कर ली थी। वही अब तक गांव की औरत के साथ सामूहिक दुष्कर्म की यह चौथी घटना है। नामज़द आरोपियों पर एफ़आईआर दर्ज होने के बावजूद गांव में ख़ौफ़ का माहौल कायम है। वही पीड़िता का परिवार समेत महादलित परिवारों में दबंगों की ओर के आसन्न खतरे को लेकर भय बना हुआ है।