Super Exclusive (वीडियो) पटना के एक थानेदार की “मिठाई खातिर रंगदारी” और “शराब संग तस्वीर” से पीड़ित की जुबानी सुनिए दर्दनाक दास्तान

पटना Live डेस्क।बिहार में सुशासन की सरकार है। दावे कानून के राज का है। लेकिन हक़ीकत ये है कि राजधानी में सुशासन सरकार के नाक के नीचे पुलिसवाले किस कदर बेलगाम होकर गुंडागर्दी और वर्दी की हनक में रंगदारी करते है की “रंगदारी में तरकारी” तक वसूलने लेते है। खुलासे में दो दो थानेदार समेत कई पुलिस कर्मी निपट गए पर शायद पटना में तैनात थानेदार “हम नही सुधरेंगे” को अपना लक्ष्य बना चुके है।
वही दूसरी तरफ पटना में तैनात एक थानेदार तो इस कदर बेलगाम और बदमिजाज है कि हाल ही में पटना पुलिस पर मीठापुर बस पड़ाव में चुंगी वसूलने वाली एजेंसी से कमीशन मांगने का आरोप लगा।  आरोप लगाने वाली एजेंसी के निदेशक अतिरेक सलील ने जक्कनपुर थाना प्रभारी अबरार अहमद खाँ पर चुंगी वसूली में कमीशन मांगने का आरोप तो चस्पा किया और एक ऑडियो भी वायरल हुआ जिसमे दावा किया गया कि एजेंसी और थाना प्रभारी की बातचीत है।

पूरी खबर पढ़े …

Big News-(ऑडियो) पटना में जक्कनपुर थानेदार द्वारा मीठापुर बस स्टैंड में चुंगी वसूली में कमीशन मांगने का वायरल हुआ ऑडियो
http://patnalive.co.in/viral-audio-of-police-officer-claimed-to-sho-jakknpur-of-patna-police/

अभी यह मामला सुर्खियों में ही है कि “हम नही सुधरेंगे” हर हालत में जुल्मो सितम और रंगदारी करेंगें को जैसे अपना मूल मंत्र बना चुके जक्कनपुर के थानेदार अबरार अहमद खाँ के कारनामे का एक और वीडियो बड़ी तेजी से वायरल हो रहा है। इस वायरल वीडियो में थानेदार की रंगदारी और जोर जबरदस्ती की काली करतूत का खुलासा खुद पीड़ित कर रहा है। बकौल पीड़ित के यह कोई पहला वाकया नही जब जक्कनपुर थानेदार ने उसपर जुल्मो सितम किया हो। वो अक्सर पीड़ित मिठाई दुकानदार से रंगदारी में मिठाई तो लेते ही है साथ ही साथ धौस पट्टी देते हुए उसको प्रताड़ित भी करते रहे है।

लेकिन, हद तो तब हो गई जब थानेदार ने मिठाई दुकानदार साधु को फोन कर थाने बुलाया और फिर बताया कि तुम पर वारेंट है। वारेंट की बात पर पीड़ित ने बताया कि इस मामले में बेल लें चुका हूं और मामले मे गवाही हो रही है कॉम्प्रोमाइज हो चुका है। फिर भी इंस्पेक्टर ने सिपाही को बुलाकर थाने में बिठाने का हुक्म दिया।

फिर शराब रख खिंच ली फ़ोटो

साहब का हुक्म था तो सिपाही ने दुकानदार को थाना हाजत में बंद कर दिया। बकौल पीड़ित के हाजत में बंद रखने के कुछ समय बाद बाहर निकाला गया हथकडी लगाई गई और देशी शराब संग कई तस्वीरें क्लिक कर ली गई। इस पर जब पीड़ित साधु ने हल्ला हंगामा किया जमकर विरोध करते हुए चीखने चिल्लाने लगे तो, फिर जो हुआ वो आपके होश उड़ा देगा। अब आप खुद सुनिए भुक्तभोगी की जुबानी सुशासन की नाक के नीचे एक बेलगाम थानेदार जो खुद को एक वरीय आईपीएस अधिकारी का बेहद करीबी बताता है ने वर्दी के हनक में जो कोहराम मचा रखा उसका खौफनाक सच …