Big News-(वीडियो) देखिए दहेज लोभी दूल्हे और उसके पिता की जमकर हुई धुनाई,कपड़े फाड़ नंगे बदन निकाली गई दुबारे बारात, SP ने भिजवाया जेल

पटना Live डेस्क। बिहार के CM नीतीश कुमार दहेज विरोधी अभियान चला रहे है। वही दूसरी तरफ उनके गृह जिले में ही पुलिस से जब गुहार लगाते लगाते लड़की वाले थक गए और सब्र का बांध टूट गया तो फिर क्या था परिजनों और उसके गाँव वाले पहुँच गए बेटी के ससुराल और दहेज लोभियों को अपने ढंग से सबक सीखा दिया।
दरसअल, ब्याहता लड़की के मां बाप इतने गरीब है कि उन्हें ठीक से दो वक्त की रोटी भी नसीब नहीं हो पाती है। दहेज कहा से दे पाते। तमाम परिस्थितियों से अवगत होकर लड़के पक्ष ने वर्ष 2011 में शादी और 2013 में गवना कराया। लेकिन बकौल पीड़िता के जब वह ससुराल पहुंची तो पहले दिन से ही इनडायरेक्ट तरीक़े से ये कम वो कम के जरिये दहेज़ खातिर टानेबाजी शुरू हो गई।धीरे धीरे यह सिलसिला मारपीट में तब्दील हों गया। अपने माँ बाप के हालात से वाकिफ़ बेटी जानती थी कहाँ से देंगे दहेज़, वो सालों साल प्रताड़ना सहती रही मगर उफ़ तक न कहा लेकिन आखिर वो अबला भी कब तक सहती ये जुल्मों सितम और ज़लालत आखिरकार मामला पुलिस थाने भी पहुंचा मगर पुलिस का ढुलमुल रवैया ससुरालियों की हिम्मत और बढ़ाता चला गया। मारपीट और प्रताड़ना का दौर नीत नए कीर्तिमान स्थापित करने लगा।

बेबस और लाचार माँ बाप को लगा कि  पुलिस न्याय नहीं दिला सकती,तब उन्होंने अपने गावं के समाज से गुहार लगाईं।मामला समाज के सामने लोगों ने दहेज़ लोभी दुल्हे और उसके पिता को पकड़ लिया और जमकर उनकी धुनाई करते हुए उनके कपडे उतार लिए। फिर उन्हें मारते पीटते  लेकर नालन्दा एसपी सुधीर कुमार पोरिका के आवास एक बारात की क्ल में पहुचे। भड़के गांव वाले दोनो बाप बेटे को एसपी आवास के बाहर तबतक पीटते रहे जब तक एसपी साहब खुद बाहर नहीं आ गए।इस पूरी कवायद के दौरान पीड़िता भी मौजूद रही। उसने एसपी को बताया कि किस तरह से उसे सालों से प्रताड़ित किया जा रहा था दहेज़ की मांग को लेकर। एसपी ने पूरी दस्तान सुनने के बाद एसपी ने लोगों को न्याय का भरोसा दिलाया तब जाकर लोगो ने दोनो आरोपियों को पुलिस को सौंपा तो मामला दर्ज कर दोनो को।जेल भेज दिया गया।रखा तमाम बातें खोल कर रखते हुए हाथ जोड़कर निवेदन किया मेरी बेटी को न्याय दिलाओ। फिर क्या दहेज़ लोभी परिवार को सबक सीखाने और बेटी को न्याय दिलाने लड़की के मायके से उसके ससुराल पहुंचे।

लोगों ने दहेज़ लोभी दुल्हे और उसके पिता को पकड़ लिया और जमकर उनकी धुनाई करते हुए उनके कपडे उतार लिए। फिर उन्हें मारते पीटते  लेकर नालन्दा एसपी सुधीर कुमार पोरिका के आवास एक बारात की शक्ल में पहुचे। भड़के गांव वाले दोनो बाप बेटे को एसपी आवास के बाहर तबतक पीटते रहे जब तक एसपी साहब खुद बाहर नहीं आ गए।

                   इस पूरी कवायद के दौरान पीड़िता भी मौजूद रही। उसने एसपी को बताया कि किस तरह से उसे सालों से प्रताड़ित किया जा रहा था दहेज़ की मांग को लेकर। एसपी ने पूरी दस्तान सुनने के बाद एसपी ने लोगों को न्याय का भरोसा दिलाया तब जाकर लोगो ने दोनो आरोपियों को पुलिस को सौंपा तो मामला दर्ज कर दोनो को जेल भेज दिया गया। देखिये कैसे निकली बारात –