भारत नेपाल बॉडर से एसएसबी ने दबोचा हिजबुल मुजाहिद्दीन का आतंकी, 14 साल से पाकिस्तान में था ठिकाना

0
21

 

पटना Live डेस्क। भारत नेपाल बॉडर पर तैनात सशस्त्र सीमा बल ने हिजबुल मुजाहिद्दीन के कुख्यात आतंकी को भारत में घुसपैठ करते समय गिरफ्तार किया है। हिजबुल मुजाहिद्दीन का आतंकी नसीर अहमद उर्फ सादिक नेपाल के रास्ते भारत में घुसने की कोशिश कर रहा था। नसीर भारत-नेपाल बॉर्डर पर सनौली के पास पकड़ा गया। मिली जानकरी के मुताबिक एसएसबी ने जिस हिजबुल मुजाहिद्दीन आतंकी नसीर अहमद उर्फ सादिक को पकड़ा है, वो 34 साल का है। नसीर पिछले 14 सालों से पाकिस्तान में रह रहा था। नसीर के बारे में माना जा रहा है कि वो भारत में किसी बड़ी साजिश के तहत वापस आ रहा था। पर एसएसबी के हत्थे चढ़ गया।
आरोपी अहमद साल 2002 में रामबन जिले के बनिहाल क्षेत्र में हुए कई आतंकी गतिविधियों में शामिल रहा था और साल 2003 में वो पाकिस्तान जाकर हिजबुल मुजाहिद्दीन आतंकी संगठन में शामिल हो गया था।आतंकी अहमद ने नवंबर-2003 से जनवरी 2004 तक पाकिस्तान के खैबर पख्तुनवा प्रांत में हिजबुल/आईएसआई और पाकिस्तानी आर्मी की मदद से ट्रेनिंग हासिल की। उल्लेखनीय है कि इस दौरान उसने एके-47, एके-56, एसएलआर, रॉकेट लॉन्चर, राईफल और ग्रेनेड जैसे हथियारों को चलाने की ट्रेनिंग भी ली।
यही वजह है कि भारत में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के इरादे से आतंकी अहमद 10 मई को पाकिस्तान के फैसलाबाद से यूएई के शारजाह के रास्ते अपने साथी मोहम्मद शाफी के संग काठमांडू पहुंचा।बताया जा रहा है कि महाराजगंज पुलिस और सशस्त्र सीमा बल के लोगों ने उससे दस्तावेज से संबंधित पूछताछ भी किया, मगर जब उसकी तलाशी ली गई, तो उसके पास से पाकिस्तानी पासपोर्ट और पहचान पत्र मिले।