पटना का फ्लोटिंग रेस्टोरेंट : “एम.वी. गंगा विहार”

118

पटना Live डेस्क। एम.वी. गंगा विहार पटना में गंगा नदी में चलने वाला जहाज़ है जो की क्रूज सह रेस्टोरेंट है। बिहार में गंगा नदी पर चलने वाला ये फ्लोटिंग रेस्टोरेंट बिहारवासियों के द्वारा सबसे अधिक पसंद किया तो जा ही रहा है, साथ ही “एम.वी. गंगा विहार” टूरिस्टों का पसंदीदा डेस्टिनेशन पॉइंट बन चुका है । गंगा नदी पर चलने वाला यह जहाज़-रेस्टोरेंट बी.एस.टी.डी.सी.(बिहार स्टेट टूरिज्म डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन) द्वारा चलाया जाता है। रोज़ शाम इस जहाज़ से लोगों को यात्रा कराने का सिलसिला शुरू किया जाता है। जहाज़ के अंदर 48 सीटर और एयर कंडिशन्ड रेस्टोरेंट है, जहाँ लंच और डिनर की व्यवस्था है। इस रेस्टोरेंट को किसी स्पेशल अवसर पर ही चलाने की अनुमति है।

फ्लोटिंग रेस्टोरेंट पर जाना हो तो आपको गाँधी घाट जाना होगा जो की एन.आई.टी पटना के नज़दीक महेन्द्रू में स्थित है। पटना रेलवे स्टेशन , गाँधी मैदान या पटना एयरपोर्ट से सीधे क्रूज तक के लिए आसानी से वाहन मिल जाता है। जहाज पर अलग-अलग लोगों और संगठनों को मद्देनज़र रखते हुए कई तरीके के क्रूज का प्रबंध है, जैसे सूर्यास्त क्रूज, फन-शिप क्रूज, लीजर क्रूज, कॉर्पोरेट क्रूज, लंच क्रूज, डिनर क्रूज, ब्रेकफास्ट क्रूज। सभी क्रूज के अलग-अलग दाम रखे गए है जिसका भुगतान कर आप उस क्रूज का मज़ा ले सकते है।

 

सूर्यास्त क्रूज में रोज़ 1 घंटे का टूर कराने का प्रबंध रहता है। हफ्ते के पांच दिन रोज़ शाम 4 बजे से टूर शुरू किया जाता है और हफ्ते के अंतिम दिनों में 3 बजे, 4 बजे और 5 बजे शाम से टूर शुरू करने का आयोजन है। सूर्यास्त क्रूज के लिए हर इंसान पर 100 रुपये का भुगतान करना होता है। स्कूल और कॉलेज के स्टूडेंट्स को डिस्काउंट देने का प्रबंध है। बी.एस.टी.डी.सी. की वेबसाइट से अन्य क्रूज के रेट का पता आप लगा सकते है।

अगर आप कुछ नया और एक्साइटिंग करने का प्लान कर रहे है, या फिर आपको भी अगर पटना के खूबसूरत जगहों का नज़ारा मारते हुए खाना खाने का आनंद लेना है तो एम.वी. गंगा विहार का एक्सपीरियंस बेहतरीन और रोमांचक रहेगा। आप पटना के सारे किनारों का नज़ारा मारते हुए रात के खाने का आनंद क्रूज़ पर ले सकतें हैं। आप उस जहाज़ में दिन हो या शाम या फिर रात, तीनों पहर के कुछ घंटे आप क्रूज पर बिता सकते है। क्रूज दरभंगा हाउस, पटना कॉलेज, टेकरी हाउस, गायघाट, गाँधी सेतू से होकर गुजरता है। कई मंदिरों और किलें क्रूज पर से दिखतें है जो कि काफी सुन्दर लगता है। पटना के कई किनारों पर शाम के वक़्त गंगा आरती होती है, जिसका नज़ारा भव्य होता है।