बड़ी खबर – पटना में हुई सनसनीखेज हत्या, कारण जानकर आप का सिर घूम जायेगा की ऐसा भी होता है?

0
11

अजित यादव, ब्यूरो प्रमुख पश्चिमी पटना

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना में मंगलवार की शाम रामकृष्ण नगर थाना क्षेत्र में एक युवक को उसके पड़ोसी अपराधियों ने आपसी विवाद में 21 वर्षीय आॅटो चालक को घेर कर ताबड़तोड़ गोली मार दी और फरार हो गये। अचानक हुई गोलीबारी की आवाज सुन कर लोगों में अफरा तफरी मच गयी। इधर,ज़मीन पर घायल पड़े ऑटो ड्राइवर को स्थानीय लोगों ने इलाज के लिए पीएमसीएच ले गए जहाँ इलाज के दौरान उसकी  मौत हो गई। खूंरेजी की घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुची और मामले के बाबत तफ़्तीश प्रारम्भ कर दिया।
मिली जानकारी के अनुसार रामकृष्णा नगर थाना क्षेत्र के शिवनगर मे रणविजय सिंह के इक्कीस वर्षीय ऑटो चालक पुत्र जगनन्दन मोहल्ले में खड़ा था, तभी अचानक उसके पड़ोसी प्रदीप समेत  उसके दो भाई संदीप, इंद्रजीत के साथ ही बिंट्टू और उत्तम ने उसे घेर कर दबोच लिया अनहोनी की आशंका से जगनन्दन उनके कब्जे से निकलकर भागने लगा तो  हमलावर दस्ते से उसे 2 गोलिया मार दी। एक गोली  उसके पेट में लगी और दूसरी सीने पर लगी।गोली लगते ही जगनन्दन ज़मीन पर गिर पड़ा। इधर,बदमाशो ने घटना को अंजाम देकर दहशत फैलाने की नियत से हवाई फायरिंग करते हुए और हथियार लहराते हुये घटना स्थल से फरार हो गये। अचानक हुई फ़ायरींग से सड़क पर भगदड़ मच गई। इधर, स्थानीय लोग खून से लतपथ जगनन्दन को इलाज खातिर अस्पताल ले गये जहां डाक्टरो ने उसे मृत घोषित कर दिया। जगनन्दन की मौत की सूचना मिलते ही कोहराम मच गया।

पानी के छीटे और 4 साल बाद निर्मम हत्याजगनन्दन की हत्या का कारण बना चार वर्ष पुराना विवाद है। विवाद भी ऐसा की जानकर हर दिमाग घूम जाये और बेसाख़्ता कह ने को जी करे कि ये पागलपन की इंतहा है। 4 साल पहले मारे गए जगनन्दन के भाई पर आरोप लगा था कि हत्यारोपी प्रदीप की बहन को उसने जान बुझ कर आॅटो से सडक पर जमे पानी का छींटा पडाया था। इसी बात को लेकर उस समय दोनो मे जमकर मारपीट भी हुयी थी और मामला थाने तक जा पहूच गया था। इसी के बाद से दोनों पक्षो विशेषकर मकतूल और हत्यारोपी प्रदीप के पक्ष के बीच विवाद चल रहा था। 
इस बात की पुष्टी रामकृष्ण नगर थानेदार रंजन कुमार की घटना के कारण के तौर पर किये गए उल्लेख से भी होता है। बकौल थानेदार के जगनन्दन के भाई को 4 साल पहले के एक मामूली विवाद में पड़ोसी प्रदीप ने एक केस में फंसा दिया था। यह मामला अभी कोर्ट में चल रहा है। इसी विवाद को लेकर प्रदीप ने अपने साथियों के साथ मिलकर जगनन्दन की हत्त्या कर दी। अपराधियों ने जगनन्दन को दो गोली मारी थी। अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।