Exclusive (वीडियो) 2009 बैच के दरोगा की मौत,अररिया जिले में थे पदास्थित, बेहद जिंदादिल एसआइ का वो आखरी गाना

पटना Live डेस्क। 2009 बैच के दरोगा प्रमोद कुमार जो फारबिसगंज थाना में पदास्थित थे के असमय निधन से पूरा अररिया जिला पुलिस बल मर्माहत है। उल्लेखनीय है कि हरदिल अज़ीज़ और बेहद मिलनसार स्वभाव के दरोगा प्रमोद कुमार को मंगलवार को नरपतगंज थाना चौक के सामने एनएच 57 फोरलेन सड़क पर एक अनियंत्रित ट्रक ने बाइक पर सवार दरोगा को रौंद दिया था। इस घटना में गंभीर रूप से घायल एसआइ को आननफानन में स्थानीय लोगो ने नरपतगंज पीएचसी पहुचाया था, जहां उनकी गंभीर हालत को देखते हुए पीएचसी प्रभारी ने बड़े अस्पताल ख़ातिर रेफर कर दिया था।

                 दुर्घटना में मकतूल दरोगा के एक पैर पर ट्रक का पहिया चढ़ने से पैर समेत पूरे बदन पर गंभीर चोट लगी थी। गंभीर रूप से जख्मी दरोगा ने ईलाज के दौरान आज सुबह दम तोड़ दिया। इस मर्माहत घटना की जानकारी मिलते ही दरोगा के अररिया जिला पुलिस बल में शोक की लहर दौड़ गई। बेहद शांत और जिंदादिल प्रमोद कुमार सभी के चहेते थे।
अररिया जिला बल के लिए और पूरे पुलिस समाज के लिए ये बहुत ही दुखद घटना है। उल्लेेेखनिय है कि 2015 के जुलाई माह में भी अररिया जिला के 2009 बैच एक दरोगा मुठभेड़ में शहीद हो गए थे। अब ये दूसरी सबसे बड़ी ठेस पहुंची है अररिया जिला बल के लिए और पूरे पुलिस समाज के लिए। उनको याद करते हुए उनके साथ ड्यूटी पर रहे आरक्षी चंद्रशेखर ने रोते हुए बेहद गमगीन वीडियो शेयर करते हुए कहा सर का यह आखरी गाना था – जिसके बोल थे करोगे याद मुझे …तो बात याद आयेेगी ..

पटना live परिवार शहीद एसआई प्रमोद कुमार को श्रद्धांजलि स्वरूप उनके आखरी गाने को उनकी याद में समर्पित करता है .. जय हिंद