Big Breaking(Super Exclusive) सीएम हॉउस में तैनात गोरखा सुरक्षा गार्ड ने की खुदकुशी की कोशिश,गंभीर हालत में PMCH में एडमिट

0
48

पटना Live डेस्क। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सरकारी आवास एक(1), अणे मार्ग की सुरक्षा में तैनात बीएमपी-एक यानी गोरखा बटालियन के एक सिपाही ने अपनी ड्यूटी के दौरान तकरीबन शनिवार की रात 10 बजे के आसपास एसएलआर से खुदकुशी की नीयत से खूद को गोली मार ली। गोली सीने में लगी है। घटना के वक्त सीएम नीतीश कुमार एक अपने सरकारी आवास में मौजूद थे।अचानक हुई फायरिंग से अफरातफरी मच गई और सीएम सुरक्षा में तैनात स्पेशल सेल का सुरक्षा दस्ता गोली चलने की दिशा में दौड़ पड़े। देखा तो गोरखा बटालियन का एक सिपाही खून से लतपथ पड़ा था और वही ज़मीन पर उसकी एसएलआर (सरकारी असलाह) पड़ा था।
घायल पड़े गोरखा सिपाही की पहचान पूजन गुरु के तौर हुई जो सीएम हाउस की नाईट सुरक्षा में तैनात था। मामले की गंभीरता को देखते हुए फौरन जख्मी सिपाही पुजन को आनन फानन में स्पेशल सेल वालो ने जिप्सी में लादकर पीएमसीएच इमरजेंसी पहुचाया जहा डॉक्टरों ने उसका ईलाज शुरू करते हुए उसको आईसीयू में एडमिट कर लिया है। वही घटना की जानकारी मिलते ही गोरख बटालियन के उसके तमाम सहकर्मी और उसके परिजन अस्पताल पहुचे। 
पूरन का इलाज कर रहे डॉक्टरों के अनुसार पूजन गुरु को गोली सीने में लगी है।खून ज्यादा बह जाने से पहले उसको खून चढ़ाया जा रहा है।उसकी हालत स्थिर है। लेकिन अगले 24घंटे उसके लिए काफी क्रिटिकल है। वही घटना के बाबत जब PMCH में मौजूद उसके सगे संबंधियों से बातचीत की कोशिश पटना Live संवाददाता ने की तो पहले तो उन्होंने ने कुछ भी बताने से मना कर दिया। लेकिन आईसीयू के बाहर मौजूद घायल सिपाही के लोगों में से एक का कहना रहा कि गलती से गोली चल गई जो पूरन को छाती में लगी है।
वही,खुदकुशी की कोशिश करने वाले पुरन गुरु को अस्पताल लेकर आये स्पेशल सेल के सभी अधिकारी समेत तमाम लोग आश्चर्यजनक रूप से या तो खामोशी अख़्तियार किये हुए थे या मामले के बाबत कुछ भी बताने से कतराते रहे। जख्मी सिपाही खातिर तमाम मेडिकल व्यवस्था सुनिश्चित कर स्पेशल सेल के अधिकारी सीएम हाउस लौट गए।

वही, सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पूजन गुरु ने किसी बेहद निजी वजहों से तंग आकर शनिवार की रात तकरीबन दस बजे के आसपास खुदकुशी की कोशिश के तहत एसएलआर से खुद को गोली मारी जब वो सीएम हाउस में नाइट गार्ड के तौर पर तैनात था। पूरन को गोली चेस्ट में लगी है।घटना के बाद से पुरन के नाते रिश्तेदारों उसके जानकारों का अस्पताल पहुचना लगातार जारी है।