ब्रेकिंग (एक्सक्लूसिव)-छपरा एसपी कार्यालय के सामने युवक को मारी गोली

0
32

धर्मेंद्र रस्तोगी, ब्यूरो कॉर्डिनेटर, सारण

पटना Live डेस्क। छपरा में अपराधी बेलागम हो चुके है। ख़ाकी का खौफ बिल्कुल खत्म हो चुका है। हालात का अंदाज़ा आप इस बात से लगा सकते है कि दुःसाहसी अपराधियों ने एसपी कार्यालय के समीप एक युवक को गोली मार दी और बड़े आराम से फरार हो गए।

शहर के समाहरणालय पथ पर स्थित रेलवे के आरक्षण केन्द्र से कैश कलेक्शन कर लौट रहे संग्रहकर्ता को अपराधियों ने मंगलवार को गोली मारकर घायल कर दिया लेकिन संग्रहकर्ता के पास से 22 लाख 70 हजार रुपये लूट होने से बच गया । घटना दिन के करीब 11 बजे की है । घटना के समय ही पुलिस अधीक्षक अनसुइया रणसिंह साहू के पहुंच जाने के कारण कैश संग्रहकर्ता की जान बच गयी और कैश छोड़कर अपराधियों को भागना पड़ा । बताया जाता है कि छपरा जंक्शन से रेडियेंट कंपनी के कर्मचारी उपेन्द्र यादव 22 लाख रुपये लेकर समाहरणालय स्थित रेलवे आरक्षण काउंटर पर कैश कलेक्शन करने पहुंचा । यहां से भी 72 हजार 40 रूपये लेकर जैसे ही बाहर निकला तभी दो अपराधियों ने पकड़ लिया और कैश से भरा बैग छीनने लगे । इस पर उपेन्द्र यादव ने शोर मचाया और बचाने की गुहार लगाई । शोर सुन कर बुकिंग क्लर्क संतोष कुमार बाहर निकल कर आया । संतोष के बाहर आने पर उपेन्द्र ने कैश से भरा संतोंष की तरफ फेंक दिया जिसे लेकर संतोष अंदर भाग गया । कैश का बैग छीनने में नाकाम अपराधियों को उपेन्द्र ने पकड़ लिया और वहां भीड़ जुटने लगी तो अपराधियों ने उसे गोली मार दिया । इसके बाद वहां भगदड़ मच गई।


इसी बीच पुलिस अधीक्षक अनसुइया रणसिंह साहू अपने कार्यालय जा रही थी । उन्होंने भगदड़ देखकर अपनी गाड़ी रोक कर उतर गयी । एसपी वहां कुछ समझ पाती उसके पहले ही अपराधी फरार हो गए । घायल उपेन्द्र को आनन फानन में सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया । उसे पेट में गोली लगी है और वह सारण जिले के रसुलपुर थाना क्षेत्र के असहनी गांव के हेमनारायण यादव के पुत्र है । उसकी हालत स्थिर बनी हुई है और ऑपरेशन कर गोली निकाला गया । घटना के तुरंत बाद सहायक पुलिस अधीक्षक मनीष, नगर थानाध्यक्ष सह पुलिस निरीक्षक रवि कुमार, पुअनि एचएन सिंह, परमानंद प्रसाद समेत अन्य पुलिस पदाधिकारी पहुंच गये और इसकी जांच शुरू कर दी । इस घटना के बाद काफी देर तक रेलवे आरक्षण काउंटर पर अफरा तफरी का माहौल रहा । घटना के बाद एसपी के निर्देश पर शहर के संभावित ठिकानों पर छापेमारी शुरू कर दी गयी है । एसपी ने बताया कि कैश संग्रहकर्ता अकेले ही कैश कनेक्शन करने निकला था । उसके साथ सुरक्षाकर्मी नहीं थे । उन्होंने कहा कि ट्रांजिट मनी बिना किसी सुरक्षा के लाना ले जाना  अनुचित है और इसकी सूचना पुलिस को देना महत्वपूर्ण है । इस घटना की जांच की जा रही है और इस घटना में शामिल अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है । घायल के बयान पर दो अज्ञात अपराधियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई है ।
घटना स्थल एसपी कार्यालय के सामने का है। 

घटना,डीएम व डीआरडीए कार्यालय के सामने स्थित रेलवे आरक्षण केंद्र में अपराधियों ने दिया गया है। साथ ही इस खुरेजी कि घटना को अंजाम नगर थाना से मात्र 5 सौ मीटर की दूरी पर दिया गया है। सूचना मिलते ही नगर थाने की पुलिस पहुंची और घायल को तुरंत ही  सदर अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसका इलाज जारी है।