Big Breaking(Exclusive वीडियो) पूर्णिया से अपहृत मासूम बंगाल से बरामद, किंशनगंज SP और पूर्णिया पुलिस की कोर्डिनेशन का नतीजा

0
241

पटना Live डेस्क। बिहार के पूर्णिया जिले में सोमवार की दोपहर दो बजे गुलाबबाग सुनौली चौक के पास से अपहरण हुई स्कूली बच्ची नाव्या को पुलिस ने बिहार और बंगाल के सीमावर्ती जिले किशनगंज के सीमा पार पश्चिम बंगाल के होटवार चौक के निकट से सकुशल बरामद कर लिया है। वहीं अपहरण में इस्तेमाल की गई कार समेत 4 अपराधियों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।
दरअसल पूर्णिया में बेखौफ अपराधियों ने दिनदहाड़े गुलाबबाग मंडी के गल्ला व्यापारी सुरेंद्र जैन की इकलौती बेटी 7 साल की नव्या को अगवा कर लिया। बदमाशों ने घटना को उस वक्त अंजाम दिया जब नाव्या स्कूल बस से उतरकर अपने घर जारही थी।नव्या के अपहरण की सूचना ब्राइट कैरियर स्कूल में उसके साथ पढऩे वाले बच्चे ओम शंकर ने दी। दोनो स्कूल में दूसरी क्लास में पढ़ते है और ओमशंकर एवं नाव्या एक ही बस से स्कूल जाते-आते है। बच्ची के अगवा कर लिए जाने की सूचना आग की तरह शहर में फैल गई और फिर देखते ही देखते घटना के विरोध में व्‍यवसायियों ने गुलाबबाग मंडी बंद कर सड़क जाम कर दिया। वारदात से आक्रोशित व्यापारियों की मांग है कि पुलिस तत्काल इस घटना में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार कर मासूम को मुक्त कराए। मासूम के अगवा होने और सड़क जाम होने की सूचना मिलते ही पूर्णिया के नवयुक्त एसपी विशाल शर्मा पहुचे घटना की जानकारी ली साथ ही सड़क जाम कर रहे लोगो को समझ बुझाकर जाम खत्म करने की बात करते हुए मासूम को जल्द से जल्द सकुशल बरामद करने का वायदा किया। इधर, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस हरकत में आ गई। पूर्णिया के पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा ने तत्काल घटना स्थल पर पहुंचकर जानकारी ली और जिले की सीमा को सील करने का निर्देश दिया।
पूर्णिया पुलिस ने अपहृत और अपहरण कांड के बाबत जब शुरुआती तफ्तीश शुरू की पता वही चश्मदीदों ने पुलिस को जानकारी मिली कि बता दें की सोमवार की दोपहर करीब दो बजे दिनदहाड़े बेख़ौफ़ अपराधियों ने आत वर्षीय नाव्या का अपहरण कर लिया था। नाव्या स्कुल से छुट्टी के बाद स्कूल बस से घर जाने के लिए सुनौली चौक के पास उतर रही थी। चला कि नव्या पड़ोसी ओमशंकर के साथ हर दिन की तरह सोमवार को भी स्कूल बस से दोपहर में अपने घर के पास गली के सामने उतरी थी।  जहां पर बस ने उतारा वहां से उसके घर की दूरी महज सौ मीटर है। इसी दौरान स्कूल बस से उतरते ही बच्ची का अपहरण कर लिया था। अपराधी सफेद रंग की रिनोल्ट कार पर सवार थे और बच्ची को अगवा कर कार से कुरसेला की तरफ अपराधी ले गये थे। यह अहम जानकारी थी अपराधियों के भागने की दिशा पुलिस को मिल गई थी।

CCTv से मिला अहम सुराग और गाड़ी की हुई पहचान

अपहरण की सूचना घटना की सूचना मिलते ही पुलिस हरकत में आ गई। पूर्णिया के पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा ने तत्काल घटना स्थल पर पहुंचकर जानकारी ली और जिले की सीमा को सील करने का निर्देश दिया। एसपी पूर्णिया ने फिर घटना स्थल के आसपास नज़र दौड़ाई तो उनकी आँखें चमक उठी। फौरन चौराहे के समीप लगे सीसीटीवी को खंगाला गया। सीसीटीवी फुटेज में खुलासा हुआ है कि जिस गली होकर बस से उतरने के बाद नाव्या घर जाती थी उस गली में पहले से ही एक सफेद कार खड़ी थी। नाव्या के कार के पास पहुंचते ही अपराधियो ने उसके साथ चल रहे ओम शंकर को धक्का देकर हटा दिया और नव्या को कार डाल भाग गए।