BiG Breaking- पटना में मूर्ति विसर्जन जुलूस के दौरान सरेआम दो गुटों में खूनी झड़प,जमकर हुई मारपीट और फायरिंग,एक युवक को लगी गोली,कई घायल

#कई राउंड की गई फायरिंग, जमकर हुआ पथराव, मारपीट से मची भगदड़
#संदलपुर अखाड़ा जुलूस में शामिल शेरे पंजाब बैंड
को भी पहुचा है नुकसान
#झड़प में गोली लगे युवक को 7 बजे के आसपास कुछ लोग एक निजी गाड़ी में NMCH के इमरजेंसी में लेकर पहुचे थे।
#फिर हालात बिगड़ने पर तुरंत बायपास के किसी निजी नर्सिंग होम लेकर चले गए।
#इसकी तस्दीक अस्पताल के गार्ड और अन्य स्टाफ द्वारा की गई

पटना Live डेस्क। राजधानी में पुलिस के दुर्गोत्सव में सुरक्षा के तमाम दावों को ध्वस्त करते हुए शनिवार की शाम सुल्तानगंज थाना क्षेत्र के शनिचरा इलाके के बनवारी चौक पर मूर्ति विसर्जन जुलूस के दौरान दो गुटों में खूनी झड़प हो गई। इस खूनी झड़प में ईट पत्थरो,लाठी डंडों और हॉकी स्टिक का दोनों ग्रुपों ने खुलेआम जमकर इस्तेमाल किया। अचानक हुई इस भिड़ंत से इलाके में भगदड़ मच गई और फिर इसी बीच फायरिंग की तड़तड़ाहट की आवाज के बीच एक युवक को गोली मार दी गई। इस खूनी भिड़त में एक ग्रुप जहा बनवारी चौक का स्थानीय है। तो वही दूसरा ग्रुप संदलपुर अखाड़ा से जुड़ा बताया जा रहा है।
मिली जानकारी के अनुसार इस घटना के पीछे शनिचरा इलाके के बनवारी चौक पर स्थित एक दबंग जमीन कारोबारी के भाई की संदलपुर में पिटाई मूल कारण बताया जा रहा है। दरअसल अपने भाई की पिटाई को अपनी प्रतिष्ठा से जोड़ कर उक्त दबंग बड़े ज़मीन कारोबारी ने बदला लेने की नीयत से पूरी तैयारी के साथ इस वारदात को अंजाम दिया है।
उल्लेखनीय है कि संदलपुर अखाड़ा द्वारा पूर्व निर्धारित रास्ते से दुर्गा प्रतिमा को गायघाट गंगा में प्रवाहित करने खातिर गाजे बाजे के साथ उक्त कारोबारी के बनवारी चौक स्थित घर के सामने से गुजरना था।इस बात की जानकारी मिलते ही उक्त दबंग ने भाई की पिटाई का बदला लेने खातिर हरबे हथियार और अपने गुर्गों के साथ मुकम्मल तैयारी को अमली जामा पहना दिया। बदला लेने की जोरदार तैयारी कर सभी संदलपुर अखाड़े के जुलूस के आने का इंतजार करने लगे।
लगभग 6 बजकर 15 मिनट के आसपास जैसे ही शेरे पंजाब बैंड के साथ गाते बजाते सैकड़ो की संख्या में संदलपुर अखाडे का जुलूस बनवारी चौक की तरफ आता दिखाई दिया। चुकी पहले से सबकुछ तय था, जानबूझ कर बनवारी चौक पर पूजा समिति द्वारा जुलूस में शामिल महाराजा बैंड को संदलपुर अखाड़ा जुलूस के सामने सड़क पर खड़ा कर दिया गया और फिर पूरी तैयारी के साथ उक्त शख्स और उसके मार खाये भाई ने अपने गुर्गों के साथ हमला बोल दिया।
अचानक हुए इस हमले से संदलपुर अखाड़ा के जुलूस में शामिल युवको के बीच भगदड़ मच गई। इस हमले के दौरान अखाड़े के साथ शेरे पंजाब बैंड के साथ आगे आगे चल रहा लाइट और अन्य सामान पहले तोडफ़ोड़ दिया गया। इस तोड़फोड़ में सड़क पर मरकरी और लाइट बिखर गया। जुलूस में शामिल बैंड वाले गिरते पड़ते अपना गाजा बाजा लेकर जान बचाकर भाग खड़े हुए। वही, हमलावरों की टोली ने चुन चुनकर संदलपुर के जुलूस में शामिल युवको को पीटना शुरूकर दिया गया। इस दौरान जमकर पथराव भी किया गया।
इस भिड़ंत के शुरू होते ही बनवारी चौक पर जुलूस को देखने जमा भीड़ भी भाग खडी हुई। धड़ाधड़ घरों के खिड़की दरवाजे बंद होने लगे।तकरीबन 15 मिनट तक दोनों तरफ से जमकर मारपीट की गई। इस दौरान सड़क पर अराजक माहौल बन गया। इसी बीच फायरिंग की तड़तड़ाहट शुरू हो गई। चश्मदिदों का दावा है कि आठ से दस राउंड फायरिंग की गई। इस फायरिंग में एक युवक को गोली लगने की भी बात स्थानीय लोग भी स्वीकार कर रहे है। साथ ही कई युवको के घायल होने की बात भी कुबूलते है।

पटना पुलिस का फायरिंग से इनकार

वही, सरेशाम राजधानी के सुल्तानगंज थाना क्षेत्र में शनिचरा के बनवारी चौक पर हुई दो ग्रुप में खूनी भिड़त की घटना ने पुलिस के सुरक्षा के दावों की धज़्ज़ियां उड़ाकर रख दी है। वही खुरेजी की इस घटना के बाबत सिटी एसपी पूर्वी समेत अन्य पुलिस अधिकारी इसे छोटी मोटी भिड़ंत करार देते रहे। साथ ही फायरिंग से भी इनकार करते रहे। लेकिन घटना के बाद इलाक़े में  पुलिस की भारी मौजूदगी इस बात की तस्दीक करती है। वही स्थानीय लोगो भी दबी जुबान में खुरेजी की घटना को स्वीकारते है। पर चुकी भिड़ंत में शामिल एक गुट स्थानीय दबंग से जुड़ा है स्थानिय लोग खुल कर बोलने से कतरा रहे है। इलाक़े के डरे सहमे लोगो ने खुद को घरों कैद कर लिया है।इलाके में ख़ौफ मिश्रित सन्नाटा पसरा है।

घायल बायपास स्थित निजी नर्सिंग होम में भर्ती

दो ग्रुप में हुई इस खूनी भिड़ंत में कई युवक घायल हुए है। वही संदलपुर निवासी एक युवक को गोली लगने की खबर पर जब पटना Live ने इसकी स्थानीय थाने से दरयाफ़्त की तो थानाध्यक्ष ने गोलीबारी की घटना से इनकार कर दिया।लेकिन चुकी खूनी भिड़ंत की खबर का स्रोत स्थानीय चश्मदीद और बेहद विश्वसनीय सूत्र है हमारी टीम ने सच की तलाश में सबसे पहले घटना स्थल का मुआयना किया और स्थानीय लोगो से बात की तो गोलीबारी की घटना और गोली लगने की बात की पुष्टी हो गई। वही कई युवको के मारपीट में घायल होने की भी पुष्टी हुई।
पुष्टी होते ही हमने NMCH का रुख किया तो इस बात की तस्दीक हुई कि भिड़ंत के समय के आसपास कुछ लोग एक वाहन में एक युवक को लेकर अस्पताल पहुचे थे जिसे गोली लगी थी। घायल युवक को 7 बजे के आसपास कुछ लोग एक निजी गाड़ी में NMCH के इमरजेंसी में लेकर पहुचे फिर उसकी हालात बिगड़ने पर तुरंत बायपास के किसी निजी नर्सिंग होम लेकर चले गए। इसकी तस्दीक NMCH के गार्ड और अन्य स्टाफ द्वारा की गई। साथ ही गार्ड ने बताया कि लड़के के साथ रहे लोग उसे एक निजी नर्सिंग होम जो बायपास पर स्थित है लेकर जाने की बात कर घायल को लेकर चले गए।

संदलपुर के युवक को लगी है गोली

वही, जब पटना Live संवाददाता ने संदलपुर अखाड़े से जुड़े अपने सूत्रों को खंगाला तो उन्होंने इस बात की तस्दीक की हाँ एक युवक को गोली लगी है। साथ ही 2 युवको को ईट पत्थर से कूचकर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया गया है। वही यह भी बताया गया कि घटना के बाद उनलोगों ने बिना किसी पुलिस प्रोटेक्शन के दुर्गा प्रतिमा को 9 बजे के आसपास गायघाट लेजाकर गांगा में विसर्जित कर दिया गया है। साथ ही वारदात में शामिल लोगों के खिलाफ थाना में मुकदमा दर्ज कराने की भी बात कही गई।
वही,गोली लगने से घायल युवक के नाम पते के बाबत जब पटना Live रिपोर्टर ने दरयाफ़्त किया तो उन्होंने नाम बताने से इनकार कर दिया और कहा कि उसका बायपास के एक नर्सिंग होम में ईलाज़ चला रहा है। ज्यादा कुरेदने पर बोले थोड़ा इंतजार करिये बताते है फिर फ़ोन कट गया।

तहक़ीक़ात जारी है ….