बड़ी खबर – गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्राया बेउर जेल कैंपस, कक्षपाल की हत्या करने के बाद युवक ने खुद को भी मारी गोली मौत

0
31

पटना Live डेस्क। राजधानी का अति संवेदनशील आदर्श केन्द्रीय कारा यानी बेउर जेल परिसर गुरुवार को गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा उठा।फायरिग की आवाज सुनते ही चारों तरफ आफरा तफरी का माहौल बन गया। गोलियों की आवाज सुनते ही जेल के कार्यालय कक्ष में बैठे काराधीक्षक जेलर,सहायक जेलर सहित जेल के पदाधिकारी उस ओर दौड पड़े जिधर से गोलियाँ चलने की आवाज आ रही थी। वही कुछ आरक्षी जेल की दीवार से सटकर अपनी हथियार के पोजिशन ले लिए।
जब तक कारा प्रशासन और तैनात सुरक्षा कर्मी कुछ समझ पाते 2 लोगो खून से लथपथ ज़मीन पर गिर तड़प रहे दीखे। ये कोई हमला नही था बल्कि परिवारिक रंजिश की खुरेजी थी। इस कांड में जेल में ही तैनात एक कक्षपाल को उसके भांजे ने ही बेउर जेल के क्वार्टर कैंपस में ही गोली मार दी। मामा को गोली मारने के बाद युवक ने खुद को भी गोली मार कर आत्महत्या कर ली।वही,दुसरीं इलाज के दौरान बेउर जेल में तैनात कक्षपाल संतोष की भी मौत की खबर आइ है।
बताया जाता है कि बेउर जेल में तैनात कक्षपाल संतोष गोली लगने से बुरी तरह से जख्मी हो गया। जिसके बाद उसे इलाज के लिये पीएमसीएच भेजा गया जहां उसकी मौत हो गई। संतोष के भांजे ने सरकारी पिस्टल से इस खुरेजी की वारदात को अंजाम दिया। घटना बेउर जेल के क्वार्टर में घटी। पुलिस ने घटनास्थल से वारदात में इस्तेमाल पिस्टल और कारतूस को बरामद कर लिया है।फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।घटना के कारणों का अब तक पता नहीं लग सका है। हत्या के इस दोहरे वारदात से स्थानीय लोग भी सकते में हैं।