क्रिकेट में आउट होने के तरीकों को जानिये

क्रिकेट अंग्रेजों द्वारा भारत में लाया गया था। भारत का राष्ट्रीय खेल हॉकी है । परंतु इसे राष्ट्रीय खेल होने पर भी इतनी लोकप्रियता प्राप्त नहीं हुई है जितनी क्रिकेट को प्राप्त हुई है ।

0
37

राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत में खेले जाने वाले में खेलों में क्रिकेट सबसे प्रसिद्ध है। ये भारत का एक जुनूनी खेल है जिसे बल्ले और गेंद से खेला जाता है। इस खेल में दो टीमें होती है और हर एक टीम में 11-11 खिलाड़ी होते है। इस खेल को खेलने के कुछ नियम व कायदे हैं जिन्हें ध्यान रखकर ही इसे खेला जा सकता है। इसके नियम-कानून अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद और मेर्लबोर्न क्रिकेट क्लब देखती है।

पर क्या आप जानते हैं एक खिलाडी को किन तरीकों से आउट किया जा सकता है ? आइये जानते हैं 

1. बोल्ड : जब किसी गेंदबाज के फेंके हुए गेंद पर बलेबाज के स्टंप की बेल्स गिर जाये तो वह बल्लेबाज आउट माना जाता है, यह क्रिकेट के खेल में सबसे आम बात है ।

2. कैच :  बॉल बल्लेबाज के बल्ले से हिट होने के बाद बिना जमीन को छुए फिल्डर के द्वारा पकड़ ली जाती है तो वह आउट माना जाता है।

3. स्टम्प्ड : अगर बल्लेबाज का पैर क्रीज से बाहर है और उसी समय विकेट कीपर द्वारा अगर उसकी गिल्लिया बिखेर दी जाये तो उसे आउट दिया जाता है, यह मुख्य रूप से धीमी या मध्यम गति की गेंद पर ही सम्भव है ।

4. गेंद दो बार मारना : अगर बल्लेबाज दो बार गेंद को हिट करता हैं तो वह आउट है, पहली बार जान बुझकर बल्ले, पैर या किसी भी तरह और दूसरी बार बैट से तो वह आउट है क्रिकेट में आज तक कोई भी खिलाडी ऐसे आउट नही हुआ है ।

5. हिट विकेट : अगर बल्लेबाज शॉट मारने के दौरान अपने शरीर या बल्ले को स्टंप से टच करता है तो वह आउट माना जाता है ।

6. फील्ड निरोधक : अगर कोई फील्डर गेद को विकेट कीपर या किसी और प्लेयर को फेकता है और बल्लेबाज उसमे बाधा उत्पन्न करता है तो उसे आउट दिया जाता है ।

7. टाइम-आउट : अगर नया बल्लेबाज क्रीज पर आने में निर्धारित समय से ज्यादा टाइम लेता है तो उसे आउट दिया जाता है यह निर्धरित समय वनडे में 3 मिनट और T-20 में 120 सेकंड होता है ।

8. एलबीडब्ल्यू: अगर गेद स्टंपलाइन के भीतर है और बल्ले से हिट न होकर प्लेयर के शरीर के किसी हिस्से से टच होती है तो उसे एलबीडब्ल्यू आउट दिया जाता है ।

9. हैंडलिंग बॉल : अगर बल्लेबाज बिना फील्डर टीम की अनुमति के बिना गेंद को बिना बल्ले के टच किये हाँथ से टच कर लेता है और फील्डिंग टीम अपील करती है तो उसे आउट करार दिया जाता है ।

10. रन आउट: अगर बल्लेबाज एक छोर से दुसरे छोर की तरफ दौड़ लगाता है और दुसरे छोर पर पहुँचने के पहले ही फील्डर स्टंप की गिल्लिया बिखेर देता है तो उसे रन आउट करार दिया जाता है ।

11. रिटायर्ड : यदि बल्लेबाज बिना अंपायर और विपक्षी टीम की कप्तान की सहमती के बिना फील्ड छोड़ के जाता है तो उसे आउट करार दिया जाता है और पुनः पारी की शुरुआत करने की अनुमति नही दी जाती है।

Feature Image source: ESPNcricinfo

 

Loading...