बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

दुःखद-तारीख़ बनाकर तारीख़ का हिस्सा बन गया ट्रांसजेंडर सिपाही रचित राज, हुई दर्दनाक मौत

213

पटना Live डेस्क। सूबे के पहले ट्रांसजेंडर सिपाही रचित राज की आज एक दर्दनाक हादसे में मौत हो गई है। रचित राज के साथ उनकी एक परिजन की भी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि इन दोनों की मौत ट्रेन से कटकर हुई है। इस घटना के बाद से पुलिस महकमे में मातम का माहौल है घटना भभुआ रोड रेलवे स्टेशन पर हुई।दरअसल, ट्रांसजेंडर सिपाही रचित राज अपनी एक परिजन के साथ रेलवे ट्रैक क्रॉस कर कहीं जा रहे थे। इसी दौरान ट्रेन से कटकर दोनों की मौत हो गई। यह घटना सुबह 9:30 बजे की है।मौके पर पहुंचे मोहनिया डीएसपी फैज अहमद खान ने बताया दो महिलाओं की ट्रेन से कटकर मौत होने की सूचना मिली। मृतकों में एक रचना कुमारी जो पुलिस की जवान है और दूसरी रूपा कुमारी है।

उल्लेखनीय है कि बिहार सरकार के ऐतिहासिक फैसले के बाद #सितंबर_2021 में ही रचित राज देश के पहले ट्रांसजेंडर सिपाही बने थे। रचना से रचित बने #ट्रांसजेंडर_सिपाही को कैमूर जिले के एसपी का बॉडीगार्ड बनाया गया था। रचित एसपी की गोपनीय शाखा में पदस्थापित थे। 23 साल के रचित साल 2018 बैच के सिपाही थे।रचित राज़ ने इंटर के बाद ग्रेजुएशन में एडमिशन लिया था। वही सिपाही के पद पर नियुक्ति के बाद रचित ने बताया था कि 5 वर्ष पहले साल 2016 से उन्हें अहसास होने लगा कि वह लड़कों के जैसा महसूस करते हैं। उनको सजना-संवरना और सूट-सलवार पहनना पसंद नहीं था।

Comments are closed.