बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News-बाहुबली मुख्तार अंसारी को पंजाब से यूपी लाने की तैयारी परिजनों को एनकाउंटर का सता रहा है खौफ़

सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब सरकार को यूपी सरकार को सहयोग करने का दिया निर्देश, परिवार नहीं चाहता कि मुख्तार को यूपी की जेल में रखा जाए, मुख्तार अंसारी फ़िलहाल पंजाब की रोपड़ जेल मे है बंद

312

पटना Live(UP)डेस्क-उत्तरप्रदेश की योगी सरकार ने अपराधियों व माफियाओं के खिलाफ जीरो टॉलरेन्स की।नीति अपना रखी है। यूपी की योगी सरकार ने गुंडाराज को खत्म करने का संकल्प ले लिया है। यूपी की योगी सरकार लगातार माफियाओं पर तेजी से कार्रवाई कर रही है। जो माफिया फरार चल रहे हैं या जेलों में बंद उनके खिलाफ योगी सरकार कड़ी कार्रवाई कर रही है। इसी क्रम में यूपी सरकार बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी को वापस यूपी लाने की तैयारी कर रही है। मुख्तार अंसारी फ़िलहाल पंजाब की रोपड़ जेल मे बंद हैं और कई बार से यूपी से जुड़े आपराधिक मामलों में वीडियो काफ्रेसिंग के माध्यम से होने वाली पेशी में नहीं आ रहे हैं। इससे पहले भी यूपी सरकार ने विधायक मुख़्तार अंसारी को यूपी लाने की कोशिश की थी,लेकिन पंजाब सरकार ने मुख्तार को वहीं रोकने के लिये तीन महीने का वक्त और बढ़ा दिया था।

                  अब यूपी सरकार ने मुख्तार अंसारी को वापस उत्तर प्रदेश लाने के लिये सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। इसके परिणामस्वरूप सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब सरकार को निर्देश दिए हैं कि मुख्तार की पेशी के लिये पंजाब सरकार, यूपी सरकार का सहयोग करे।

अब सुप्रीम कोर्ट का नोटिस लेकर गाजीपुर पुलिस पंजाब रवाना हुई है, जिससे मुख्तार अंसारी की यूपी के आपराधिक मामलों मे पेशी की जा सके।आपको बता दे कि मुख्तार अंसाारी व  उसके कई करीबियों पर यूपी सरकार लगातार शिकंजा कस रही है। इससे पहले नवंबर, 2020 में योगी सरकार ने यूपी के मऊ से बाहुबली विधायक मुख्‍तार अंसारी के होटल ‘गजल’ पर बुलडोजर चला दिया था। ये होटल मुख्तार की पत्नी और बेटे के नाम पर है। मुख्तार अंसारी के बेटे उमर अंसारी और अब्बास अंसारी पर भी  महीने पहले धोखाधड़ी, जालसाजी और फर्जी दस्तावेज तैयार करने आरोप में एफआईआर दर्ज की गई थी।

एक तरफ योगी सरकार मुख्तार को यूपी लाने की कवायदें कर रही है तो दूसरी तरफ मुख्तार का परिवार आशंका जता चुका है कि यूपी की जेलों मे मुख्तार की जान पर खतरा है, इसलिए वो नहीं चाहते कि मुख्तार को यूपी की किसी भी जेल मे बंद किया जाए। मुन्ना बजरंगी की जेल मे हत्या के बाद से ही माफियाओं में जेल में ही हत्या किये जाने का डर बैठ गया है, इसलिये कई माफिया दूसरे प्रदेश की जेलों मे अपना तबादला करा चुके हैं।

मुख्तार पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

योगी सरकार के इस फैसले के बाद अब बाहुबली को यूपी में वापसी से डर लगने लगा है जिसके बाद मुख्तार ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। अब यूपी सरकार ने मुख्तार अंसारी को वापस उत्तर प्रदेश लाने के लिये सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है जिसके बाद सर्वोच्च न्यायालय ने पंजाब सरकार को निर्देश देते हुए कहा है कि मुख्तार अंसारी को पेशी के लिए पंजाब सरकार यूपी की योगी सरकार का सहयोग करे।

 मुख्तार के होटल पर चलवाया था बुलडोजर

सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद अब गाजीपुर पुलिस एक बार फिर से पंजाब के लिए निकल पड़ी है ताकि यूपी के आपराधिक मामलों को लेकर मुख्तार अंसारी की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेशी करवा सके। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में एक के बाद एक करके माफियाओं की खटिया खड़ी करने का सिलसिला बादस्तूर जारी है।आपको बता दें कि ये होटल बाहुबली नेता मुख्तार की पत्नी और बेटे के नाम पर था।

 थर-थर कांप रहा बाहुबली का परिवार

वहीं बाहुबली जिससे कि पूरा इलाका थर-थर कांपता था आज उसका परिवार योगी सरकार से थर-थर कांप रहा है और इस बात की आशंका भी जता रहा है कि कहीं योगी सरकार पंजाब से यूपी लाने के बहाने मुख्तार का एनकाउंटर किए जाने की तैयारी तो नहीं कर रही है। मुख्तार का परिवार पहले ही इस बात की आशंका जता चुका है कि यूपी की जेलों मे उसकी जान को खतरा है, इसलिए वो नहीं चाहते कि मुख्तार को यूपी की किसी भी जेल मे बंद किया जाए।

आपको बता दें कि इसके पहले यूपी की जेल में बंद माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की भी जेल मे हत्या हो चुकी है इसके बाद से माफियाओं को जेल में ही मारे जाने का भय सताता रहता है।

Comments are closed.