बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News(video) 19 घंटे में ताबड़तोड़ 3 हत्याओं से दहली राजधानी,अपराधियों के तांडव के आगे बेबस पटना पुलिस

राजधानी में तीसरी बड़ी आपराधिक वारदात, पटना के फतुहा में ड्राइवर की हत्या कर स्कार्पियो लूटी

689

पटना Live डेस्क। सुरक्षित राजधानी के पुलिसिया दांवों के परखच्चे उड़ाते हुए अपराधियों ने 3-3 हत्याओं को अंजाम दे दिया है। महज 19 घंटे के अंदर राजधानी में तीसरी हत्या से पटना में दहशत तारी हो गया है।तीसरी वारदात में अपराधियों ने एक ड्राइवर की गोली मारकर हत्या कर दी और उसकी स्कोर्पियो को लूटकर फरार हो गए हैं। वारदात नेशनल हाइवे 30 पर फतुहा थाना के तहत हुई है। वारदात की जानकारी मिलते ही फतुहा एसडीपीओ और थाना की टीम पहुंची और मामले की जांच में जुट गई है।

चालक की हत्या कर स्कॉर्पियो की लूट
पटना के फतुहा थाना क्षेत्र के फोरलेन पर पीहू फूड प्लाजा के पास रविवार की देर शाम हथियारबंद अपराधियों ने एक स्कॉर्पियो चालक की हत्या कर दी और स्कॉर्पियो लूट कर बख्तियारपुर की ओर फरार हो गए। बकौल प्रत्यक्षदर्शी गुमटी दुकानदार के अनुसार पटना की ओर से एक स्कॉर्पियो नूतन पेट्रोल पंप के आगे फोरलेन पर पीहू फ़ूड प्लाजा से आगे रुकी। उसका चालक गाड़ी से उतरकर गुमटी से गुटखा लेकर अपनी गाड़ी के पास पहुंचा और पुनः शोर मचाते हुए गुमटी की ओर यह कहते हुए दौड़ा कि कुछ लोग मेरी गाड़ी की चाबी छीनना चाह रहे हैं। जब तक दुकानदार कुछ समझ पाता तब तक अपराधियों ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी और स्कॉर्पियो लेकर फरार हो गए।

इधर घटना से बदहवास गुमटी संचालक होटल पर पहुंचा तब तक गोली की आवाज सुनकर लोग जुट गए। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस तुरत मौके पर पहुंची और लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक की पहचान नवादा के कौआकोल निवासी मुनेश्वर यादव के पुत्र 42 वर्षीय सत्येंद्र यादव के रूप में हुई है।

वहीं इस संदर्भ में डीएसपी राजेश कुमार मांझी ने बताया कि प्रथम दृष्टया यह बात सामने आ रही है कि उसी स्कॉर्पियो पर तीन-चार लोग सवार थे। किसी बात को लेकर चालक से बहस हो गई इसके बाद घटना को अंजाम दिया गया। पुलिस सीसीटीवी खंगालते हुए बारीकी से मामले की जांच में जुटी है।

वही बकौल एसडीपीओ कत्ल कर दिया ड्राइवर नवादा के कौआकोल का रहने वाला था। स्कोर्पियो भी वही के रहने वाले सत्येंद्र यादव का था। बताया जाता है अपराधियों ने कस्टमर बनकर गाड़ी को भाड़े पर लिया था। पटना से लौटने के क्रम में इस वारदात को अंजाम दिया गया। अब इस मामले की जांच की जा रही है।

उल्लेखनीय है की पटना में शनिवार व रविवार की दरमियानी रात से शुरू हुआ अपराधियों का तांडव रुकने का नाम नही ले रहा है।पहली वारदात में रविवार की अहले सुबह बाइक सवार अपराधियों ने पति के साथ जा रही महिला को लूट के दौरान गोली मार दी थी। चिरैयाटांड़ पुल पर उसकी हत्या कर दी थी।

दानापुर में शख्स को तीन गोली मारी

वहीं दूसरी घटना में दुःसाहसिक वारदात को अपराधियों ने दानापुर थाने से महज कुछ ग़ज़ की दूरी पर रविवार की शाम किरण साहनी नामक मछली विक्रेता को दिनदहाड़े सरेआम ताबड़तोड़ गोलियों से बिंध दिया। जिसकी पटना PMCH ले जाने के दौरान मौत हो गई। हद तप ये की घटना के 3 घंटे बाद पुलिस पहुची जब मकतूल के पिता ने SSP पटना से फ़ोन पर गुहार लगाई।

घटना के बाबत बताया जाता है कि राजधानी पटना में महज चंद घंटों के अंदर हत्या की दूसरी वारदात को अंजाम दिया गया। मकतूल किरण सहनी दानापुर के ही भट्टा रोड इलाके का रहने वाला था। घटना के वक्त वो कहीं जा रहा था, उसी दरम्यान छोटी मछुआ टोली में घेर कर अपराधियों ने उसकी हत्या कर दी। वारदात की जानकारी मिलते ही दानापुर थाना की टीम पहुंची।

जांच के दरम्यान वारदात स्थल से गोली का तीन खोखा भी बरामद किया गया। थानेदार के अनुसार वारदात के पीछे की वजह अभी स्पष्ट नहीं हो पाई है। अपराधी कौन थे? किधर से आए और हत्या के बाद किधर भागे? इन सब की पड़ताल चल रही है।

Comments are closed.