BiG Breaking -(वीडियो) रालोसपा सुप्रीमो उपेन्द्र कुशवाहा ने कुबूला – हाँ मैंने पैसे लिए है

2

पटना Live डेस्क। अपने सियासी जीवन के सबसे झंझावात में घिरे रालोसपा सुप्रीमो उपेन्द्र कुशवाहा ने अपने ऊपर लगे तमाम आरोपो कर बाबत सफाई पेश की है। मंगलवार को पूर्व सहयोगियो नागमणि और बेहद विश्वत रहे प्रदीप मिश्र ने बाकायदा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आरोपो की झड़ी लगा दी। दरअसल, नागमणि कुशवाहा ने रालोसपा चीफ उपेंद्र कुशवाहा पर रिश्वदतखोरी तथा पैसे लेकर पार्टी के टिकट बेंचने के गंभीर आरोप लगाए थे। यह भी कहा कि उन्होंने कुशवाहा की तानाशाही के कारण ही पार्टी छोड़ी है। खुद पर लगे आरोपों पर पहले तो उपेन्द्र ने ट्वीट कर जवाब देने की कवायद के तहत कुछ यूं लिखा था।

बड़े भाई नागमणि जी,

जद(यू) से टिकट लेने के लिए छोटे भाई को इतनी गाली देने से काम नहीं चलेगा । कुछ और जोर लगाईये । कहीं ऐसा न हो कि काराकाट में छोटे भाई का श्राद्ध करने का आपका सपना टिकट के अभाव में अधूरा रह जाए..!

बड़े भाई नागमणि जी ने आज मेरे उपर कई आरोप लगाए हैं।

मैं उनके प्रति आभार प्रकट करता हूँ कि आरोपों की सच्चाई  के लिए सीबीआई से जांच कराने की मांग भी  की है । मैं भी उनकी उक्त मांग का पुरजोर समर्थन करता हूँ । बड़ी कृपा होगी मुख्यमंत्री जी से जांच की अनुशंसा करवा दें ।

भाई नागमणि जी ने मेरे उपर कई आरोप लगाए हैं ।

बड़ी कृपा होगी यदि मुख्यमंत्री जी से सिफारिश कर अपने आरोपों के सीबीआई जांच की अनुशंसा करवा दें। मुख्यमंत्री जी से नव स्थापित उनकी अंतरंगता की भी पुष्टि का सुनहरा अवसर है उनके लिए ।

बड़े भाई नागमणि जी से हाथ जोड़ कर आग्रह करता हूँ । ……………आजकल मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी से उनकी बहुत करीबी हो गई है। अपने द्वारा लगाए कथित आरोपों की सीबीआई जांच के लिए बिहार सरकार से अनुशंसा करवा दें ।

साथ ही अपने ट्वीटर हैंडल से एक वीडियो भी जारी कर अपने ऊपर लगे आरोपो के बाबत सफाई दी। सुने वो बयान

वही, आज यानी बुधवार को रालोसपा चीफ उपेंद्र कुशवाहा ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों का जवाब दे दिया है। उन्होंने पटना में मीडिया से बात करते हुए न केवल अपना पक्ष रखा बल्कि जमकर अपनी भड़ास भी निकाली। उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि कुछ लोगों ने मेरे ऊपर गम्भीर आरोप लगाये हैं, जिसको लेकर हम अपनी राय रखने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुझपर चार गंभीर आरोप लगाए गए हैं। जिसमें एकाउंट में पैसा देने, टिकट बेचने, विदेशों में घुमाने का आरोप शामिल हैं।

                         उल्लेखनीय है कि प्रदीप मिश्र से पैसे लेने की बात तो उन्होंने कुबूला पर साथ ही यह भी जोड़ा की जरूरत के लिए पैसा लिया है, कोई टिकट के लिए नहीं लिया। दरअसल उस वक्त मुझे पैसेंकी व्यक्तिगत तौर पर जरूरत थी और इसलिए पैसा लिया। पार्टी में सभी लोग सहयोग की भावना से खर्च करते हैं। हमने कोई दबाव दिलाकर पैसा नहीं खर्च कराया।

वही विदेश दौरे के बाबत उनका कहना रहा कि क्या उपेन्द्र कुशवाहा की हैसियत नहीं अपने खर्च पर विदेश जाने की इसलिए प्रदीप मिश्रा ने मुझको विदेश घुमाया। हम गए थे। यह कोई अपराध नहीं है। 

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि टिकट का अभी बंटवारा ही नहीं हुआ तो टिकट कैसे बेच सकता हूँ। उपेन्द्र कुशबाहा पर कोई भष्टाचार का आरोप नहीं लगा सकता है।कोई अलग से मेरे चेहरे को दागदार बनाना चाहता है। सीबीआई से इसकी जांच करावायें। हम तैयार हैं। प्रदीप मिश्रा ने टिकट के लिए आग्रह किया था। साथ ही रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि नीतीश कुमार की बड़ी कृपा होगी कि वे सीबीआई जांच की अनुशंसा कर दें।

Loading...